पेशाब से बवासीर का इलाज । जाने सच और झूठ

प्राचीन काल में बहुत सारे लोग पेशाब से बवासीर का इलाज करने के लिए इस्तेमाल करते थे।  गोमूत्र के बारे में भी ऐसी बहुत सारी भ्रांतियां हैं। जोकि लोगों के लिए बहुत हानिकारक साबित हो सकती हैं। ज्यादातर लोगों का यह मानना होता है कि गोमूत्र से बवासीर का  मर्ज ठीक हो सकता है। लेकिन हम  आपको बताना चाहेंगे कि पेशाब या गोमूत्र किसी भी तरह से  बवासीर के मर्ज के लिए या किसी अन्य मर्ज के लिए उपयोगी साबित नहीं हो सकते हैं। क्योंकि पेशाब में 95% पानी पाया जाता है और 5% मैं यूरिया,यूरिक एसिड, पोटेशियम और फास्फेट जैसे तत्व पाए जाते हैं।

बवासीर की समस्या के 100% इलाज के लिए इन दवाओं का प्रयोग करें

Best Buy









Cureveda Piles Elixir



  • आयुर्वेदिक
  • No Side Effect
  • पूर्णरूप से आयुर्वेदिक
Budget Pick









PiloKit



  • अधिक असरदार
  • 100% असरदार
  • सुरक्षित
Trending Buy









 Pilesaway



  • पूर्ण सुरक्षित
  • पूर्णरूप से फायदेमंद
  • अद्भुत परिणाम

 

बवासीर के मरीज के लिए कब्ज जिम्मेदार माना जाता है। जिसको की  बराबर पानी पीने से भी खत्म किया जा सकता है।  लेकिन पेशाब में पाए जाने वाला पानी इसके लिए बिल्कुल भी सही नहीं है।  क्योंकि  पहले से ही किडनी दोनों फिल्टर किया हुआ रहता है।  जो की पूरी तरह से खराब होता है। इसीलिए इसके इस्तेमाल से आपको किसी ना किसी प्रकार का  इंफेक्शन  या किडनी का रोग  जन्म दे सकता है। इसीलिए आपको किसी भी ऐसे  अफवाहों में नहीं आना चाहिए जो की बवासीर के मर्ज को पेशाब से ठीक करने के बारे में बता रहे होते हैं।

पेशाब से बवासीर का इलाज

पेशाब का इस्तेमाल बवासीर में नहीं करना चाहिए 

बवासीर के मर्ज में पेशाब का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह आपके लिए घातक साबित हो सकता है। बवासीर के मर्ज के लिए पेशाब के इस्तेमाल के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी उपलब्ध नहीं है और सभी चिकित्सक और वैज्ञानिक इस बात का खंडन  कर चुके हैं कि बवासीर के मर्ज के लिए पेशाब का इस्तेमाल करना बहुत ही घातक कदम हो सकता है। इसीलिए आपको किसी अफवाह में नहीं आना चाहिए। और ऐसे किसी उपायों को इस्तेमाल में नहीं लाना चाहिए जो कि आपको किसी पीड़ा में डाल दे और आपके  शरीर में कोई नया मर्ज उत्पन्न हो जाए। 

उपयोगी गोमूत्र बवासीर के मर्ज के लिए 

गोमूत्र से बवासीर के इलाज के लिए  ज्यादा कोई जानकारी तो उपलब्ध नहीं है। लेकिन बहुत सारे वैद्य और हकीम  गोमूत्र  के  अर्क को बवासीर के इलाज के लिए और भी बहुत सारे मरीजों के इलाज के लिए इस्तेमाल करते हैं क्योंकि इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि कुछ मरीजों को ठीक करने के लिए लाभकारी साबित हो सकते हैं।

इसीलिए बवासीर के मर्ज के लिए आपको कोई ठोस इलाज की जरूरत होती है। लेकिन गोमूत्र को आप कभी  कभी बवासीर के मर्ज के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसीलिए  निम्नलिखित में कुछ तरीके बताए गए हैं जो कि  बवासीर के मरीज के इलाज के लिए उपयोग किए जा सकते हैं।

  • वैद्य गोमूत्र को अन्य जड़ी बूटियों के साथ मिलाकर लगाते हैं जिससे कि मुझसे सूखने लगता है।
  • गोमूत्र के साथ हरण को मिलाकर लगाने से बवासीर की समस्या में कुछ आराम मिल सकता है
  • गोमूत्र को बवासीर के प्रभावित क्षेत्र में लगाने से  आपको थोड़ा बहुत आराम मिल सकता है।

गोमूत्र

गोमूत्र के लाभ को परखने के लिए कुछ शोध किए गए हैं जिसमें कि यह पाए गए जो बवासीर के मरीज अपने बवासीर को मत को ठीक करने के लिए गोमूत्र का उपयोग कर रहे थे उनके बवासीर के मर्ज में कुछ राहत मिल सकती है। लेकिन बवासीर के शुरुआती समय में ही गोमूत्र को इस्तेमाल किया जा सकता है।बवासीर के मर ज्यादा बढ़ जाने के बाद गोमूत्र जैसे घरेलू नुस्खों को उपयोग में लाना बिल्कुल भी सही नहीं होता है।  इसकी वजह से आपको और भी ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

बवासीर के मर्ज में पेसाब के इस्तेमाल से होने वालीं दिक्कतें 

अगर बवासीर के मर्ज में पेशाब का इस्तेमाल किया जाता है या फिर पेशाब से बवासीर का इलाज किया जाता है तो यह आपके लिए बहुत ही घातक साबित हो सकता है क्योंकि पेशाब में बहुत सारे ऐसे बैक्टीरिया मौजूद होते हैं जो कि आपके और बढ़ा सकते हैं। क्योंकि इस आप खुद ही बहुत सारी ऐसी गंदगी को समेटे रहता है।

जोकि किसी भी इंफेक्शन को फैला सकता है।सिर की मर्ज के लिए पेशाब का सेवन करना आपके किडनी फेलियर के लिए भी जिम्मेदार साबित हो सकता है।  इसीलिए ऐसे अफवाहों से आपको बचना चाहिए।  जोकि पेशाब को  बवासीर के मर्ज के लिए लाभकारी बदलते हैं। इसलिए आज हम  जानने की कोशिश करते हैं की पेसाब से आपको क्या-क्या दिक्कतें हो सकती हैं।

  • बवासीर से  प्रभावित क्षेत्र में संक्रमण अधिक बढ़ने का खतरा
  • किडनी फैलियर का खतरा
  • पाचन की समस्या
  • कब्ज की समस्या

बवासीर से  प्रभावित क्षेत्र में संक्रमण अधिक बढ़ने का खतरा

बवासीर की मर्ज  मैं पेशाब के इस्तेमाल से आपको ज्यादा दिक्कतें बढ़ सकती हैं। क्योंकि पेशाब से बवासीर के इलाज के बारे में कोई भी ठोस तथ्य मौजूद नहीं है और इसको किसी डॉक्टर या  चिकित्सक द्वारा भी

कभी भी नहीं  बताया जाता है। पेशाब में बहुत सारे ऐसे बैक्टीरिया होते हैं जो कि आपके बवासीर के मर्ज में हो रहे संक्रमण को और अधिक बढ़ा सकते हैं। संक्रमण अधिक बढ़ने की वजह से आपको  बवासीर के मर्ज में हो रहे थे, सूजन, और जलन की समस्या हो सकती है। जो कि बहुत ही असहनीय पीड़ा दे सकता है। इसलिए आपको बहुत सिर की मर्जी से इलाज के लिए पेशाब का  इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

किडनी फैलियर का खतरा

जब कोई भी मनुष्य पानी पीता है तो किडनी उस पानी को फिल्टर करके बाहर निकालने का काम करती है। और खाना खाने के बाद भी खाने से जो पानी निकलता है उसे भी  फिल्टर करके बाहर निकालने का काम करती है।  किडनी हमारे खाने में मौजूद  गैर जरूरी पदार्थों को भी बाहर निकालने का काम करती है और पोषक  तत्वों को खून में भेजने का काम करती हैं।

अगर आप किडनी दौरा फिल्टर किए गए गंदगी का ही सेवन करेंगे तो इससे आपको किडनी फैलियर का भी खतरा हो सकता है। क्योंकि  इसमें इतने टॉक्सिन मौजूद होते हैं जो कि किडनी फिल्टर नहीं कर पाती  और इस स्थिति में किडनी के  खराब होने का खतरा अधिक बढ़ जाता है। इसीलिए आपको पेशाब का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए।  क्योंकि यह आपके लिए घातक साबित हो सकता है।

पाचन की समस्या

अक्सर  देखा जाता है कि बहुत से लोगों में खाना ना पचने की समस्या होने लगती है। जो कि उनके अनाप-शनाप खानपान और खराब जीवनशैली की वजह से होती है।  जब आपके शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है और पेट में बहुत सारी गंदगी इकट्ठा हो जाती है। इसके वजह से खाना नहीं पचता है।  आप बहुत ज्यादा ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन कर लेते हैं जो की बहुत ही कठोर होते हैं और पचने में बहुत ज्यादा समय लेते हैं। ऐसी स्थिति में भी खाना नहीं पचता है।

अगर आपके पेट में गंदगी होने की वजह से खाना ना पचने की समस्या है और इस स्थिति में आप पेशाब का सेवन कर लेते हैं तो  पेशाब में मौजूद जहरीले पदार्थ और  गंदगी आपके शरीर में और भी ज्यादा गंदगी बढ़ा सकती है।  जो कि आपके  पेट में दर्द और अपच की समस्या को भी दे सकती हैं।इसीलिए की अफवाह में नहाते हुए आपको बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्योंकि आपके लिए घातक साबित हो सकता है।

बवासीर के मर्ज के लिए कुछ महत्वपूर्ण उपाय और जरूरी बातें 

बवासीर के बहुत सारे लोग  एलोपैथिक,आयुर्वेदिक दवाओं और बवासीर के मस्से हटाने की क्रीम का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इन दवाओं के इस्तेमाल के साथ-साथ आपको कुछ महत्वपूर्ण उपायों का भी सहारा लेना चाहिए। जिससे आप अपने  बवासीर को मर्ज को बहुत ही आसानी से खत्म कर सकते हैं। कुछ लोग पेशाब से बवासीर का इलाज करने की सलाह देतें हैं जोकी बिल्कुल ही गलत सलाह है इसका उपयोग बिल्कुल ही नहीं कान चाहिए। निम्नलिखित बताए गए सभी उपाय बवासीर के मर्ज के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं। इनको कई वर्षों से इस्तेमाल में लाया जाता रहा है।

इन उपायों के इस्तेमाल से बहुत सारे लोग बवासीर के मरीज से निजात भी पा चुके हैं। इसीलिए आप भी  बवासीर के मर्द से निजात पाने के लिए नीचे बताए गए महत्वपूर्ण उपायों का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिनका आपके शरीर पर कोई विपरीत परिणाम भी नहीं पड़ता है।

  •  नियमित योग करना चाहिए।
  •  हल्का गर्म एवं ताजा भोजन करना चाहिए।
  •  भोजन करते समय  खाने को चबाकर खाना चाहिए।
  • एक बार में ज्यादा भोजन नहीं करना चाहिए इसको तीन या चार बार में बांट लेना चाहिए।
  • हफ्ते भर में एक बार उपवास करना चाहिए।
  • भोजन करने के बाद टहलना चाहिए।
  • सुबह जल्दी उठना चाहिए।
  • दांतो को अच्छे से साफ करना चाहिए।
  • रात में सही समय पर सो जाना चाहिए। 
  • बहुत ज्यादा तनाव या गुस्सा नहीं करना चाहिए।
  • ठंडा पानी पीना चाहिए।
  • तला भुना एवं बहुत ज्यादा मिर्च मसाले वाला भोजन नहीं करना चाहिए।
  • अधिक देर तक नहीं बैठना चाहिए।
  •  शौच करते समय बहुत ज्यादा जोर नहीं लगाना चाहिए। 

बवासीर के इलाज के आयुर्वेदिक उपाय

बवासीर की समस्या एक ऐसी समस्या है जिसमें असहनी दर्द होता है तथा मल त्यागने व बैठने में भी समस्या होती है बवासीर की समस्या पुराने कब्ज  के कारण होती है बवासीर से बचने के लिए निम्नलिखित दवाओं का प्रयोग किया जा सकता है 

  • Cureveda Piles Elixir
  • Pilesaway
  • Anoac
  • ARSH SUDHA SYRUP
  • PiloKit

Cureveda Piles Elixir

Cureveda Piles Elixir

Cureveda Piles Elixir एक आयुर्वेदिक औषधि है जो पेट की समस्या से होने वाली बवासीर को जड़ से समाप्त करती है जिन व्यक्तियों में बवासीर की समस्या होती है तथा उनको मल त्यागने तथा बैठने में समस्या होती है उनको दैनिक रूप से Cureveda Piles Elixir का प्रयोग करना चाहिए जो होने वाली बवासीर की समस्या को जड़ से समाप्त कर देता है यह एक आयुर्वेदिक औषधि है इसका शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है  

Pilesaway

Pilesaway

Pilesaway का प्रयोग बवासीर की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है जिन व्यक्तियों में खूनी बादी बवासीर की समस्या होती है उनका विभिन्न प्रकार की पेट की समस्याएं होती हैं तथा बैठने का मल त्यागने में समस्या होती है इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए Pilesaway एक रामबाण औषधि है जो बवासीर के प्रत्येक समस्या को जड़ से समाप्त कर देती है

Anoac

Anoac

खूनी बादी बवासीर से बचने के लिए Anoac  आयुर्वेदिक औषधि का प्रयोग किया जाता है जिसमें विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण होता है जो हमारी पेट की समस्या को ठीक करते हैं जिसके कारण धीरे-धीरे बवासीर की समस्या ठीक हो जाती है जिन व्यक्तियों में मल त्यागने तथा बैठने में समस्या होती है को दैनिक रूप से Anoac आयुर्वेदिक औषधि का प्रयोग करना चाहिए जो बवासीर की हर समस्या को जड़ से समाप्त कर देती है

ARSH SUDHA SYRUP

ARSH SUDHA SYRUP

ARSH SUDHA SYRUP एक आयुर्वेदिक सिरप है जिसमें विभिन्न प्रकार के  आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण होता है यह आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हमारी पेट से संबंधित सभी समस्याओं को समाप्त कर देते हैं पेट की सभी समस्याएं समाप्त हो जाने के कारण बवासीर की समस्या ठीक होने लगती है जिन व्यक्तियों में खूनी बादी बवासीर  की समस्या होती है  उनको दैनिक रूप से ARSH SUDHA SYRUP  का प्रयोग करना चाहिए इससे शरीर पर कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं तथा उसी की समस्या जड़ से समाप्त हो जाती है 

PiloKit

PiloKit

PiloKit यह एक विशेष प्रकार की किट होती है जिसमें एक दवाओं का समूह होता है जो सिरप क्रीम तथा टेबलेट के रूप में होता है यह सभी दवाइयां बवासीर के विभिन्न स्थितियों से बचने के लिए प्रयोग की जाती हैं जिस में उपस्थित सिरप का प्रयोग बवासीर के अंदरूनी कारणों को समाप्त करने के लिए किया जाता है तथा क्रीम का प्रयोग मस्सों द्वारा हुआ घाव से बचने के लिए किया जाता है तथा कुछ अन्य टैबलेट्स मस्सों को सुखाने तथा दर्द से बचने के लिए किया जाता है PiloKit इसके द्वारा बाबासीर की समस्या को आसानी से समाप्त किया जा सकता है

बवासीर के इलाज के लिए घरेलू उपचार 

बवासीर के इलाज के लिए बहुत से ऐसे घरेलू उपचार हैं जिनके इस्तेमाल से आप अपनी  बवासीर की समस्या को बहुत ही आसानी से खत्म कर सकते हैं। सदियों से रोगों को खत्म करने के लिए घरेलू उपचारों का सहारा लिया जाता है। क्योंकि प्राचीन काल में जब कोई भी चिकित्सक नहीं हुआ करते थे तो लोग घरेलू उपचारों का ही सहारा लेते हुए अपने मर्द को ठीक कर लेते थे। जिससे वह बहुत ही स्वस्थ और तंदुरुस्त भी रहते थे। बवासीर के  मर्ज को ठीक करने के लिए आपको उन घरेलू उपचारों का  जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। जोकि  आपके दैनिक खानपान में इस्तेमाल किया जाते हैं।

लेकिन आप को उनके बारे में बहुत ज्यादा जानकारी ना होने को जब से आप उनको नजरअंदाज करते रहते हैं। घरेलू उपचारों के उपयोग से आपके शरीर पर किसी भी प्रकार का विपरीत परिणाम में नहीं पड़ता है  और आप बवासीर के  मर्ज  से  बहुत जल्दी ठीक हो  सकते हैं।

  • एलोवेरा के इस्तेमाल से बवासीर का इलाज
  • सेब के सिरके का सेवन
  • जैतून के तेल का इस्तेमाल
  • बदाम के तेल का इस्तेमाल
  • बवासीर के मर्ज के लिए नारियल का उपयोग
  • अंजीर से बवासीर का इलाज
  • बवासीर के मर्ज के लिए जीरे का प्रयोग

एलोवेरा के इस्तेमाल से बवासीर का इलाज

एलोवेरा में बहुत सारे ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि आपके बवासीर के मर्ज में हो रही सूजन को खत्म करने और जलन को कम करने का काम करते हैं। एलोवेरा आपके पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकता है। आपके अंदर पाचन शक्ति की मजबूती आने से कब्ज जैसी समस्या भी दूर हो सकती है।  बहुत से मर्ज के लिए कब्ज  को जिम्मेदार माना जाता है। इसीलिए बवासीर को ठीक करने के लिए आप प्रभावित क्षेत्र में एलोवेरा जेल लगा सकते हैं। बढ़ा हुआ पेट कम करने और  कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए एलोवेरा जूस का भी सेवन कर सकते हैं।

पेशाब से बवासीर का इलाज

सेब के सिरके का सेवन

सेब के सिरके में बहुत सारे ऐसे गुण पाए जाते हैं। जोकि आपके  रक्तवाहिनीयों को सिकुड़ने का काम करते हैं। जिससे आपके पूरे शरीर में रक्त संचार अच्छे से होने लगता है। शरीर में  रक्त का संचार  अच्छा होने से आपके पेट में कब्ज की समस्या नहीं होती है। जिससे  आपको बवासीर के मर्ज में बहुत ही आराम मिलता है।

इसलिए आप बवासीर के मर्ज में हो रहे दर्द और जलन को कम करने के लिए सेब के सिरके का सेवन कर सकते हैं। सेब के सिरके को दाद के मर्ज से निजात पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है

apple vinegar

जैतून के तेल का इस्तेमाल

 बवासीर के मर्ज को ठीक करने के लिए अब जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। क्योंकि  जैतून में बहुत सारे ऐसे तत्व पाए जाते हैं। जोकि बवासीर के मर्ज में मल के रास्ते की सूजन को कम करने का काम करते हैं। इस तेल को लगाने से आपके प्रभावित क्षेत्र में जलन और दर्द भी कम होने लगती है।  इसलिए आपको बवासीर के मर्ज में  प्रभावित क्षेत्र में  इसको दिन में दो से तीन बार लगाना चाहिए जिससे कि आपको सूजन और दर्द से बहुत जल्द आराम देखने को मिल सकता है।

olive oil

बादाम के तेल का इस्तेमाल

बादाम में बहुत सारे ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि आपकी  इम्यूनिटी को  मजबूत करते हैं। जिससे आपकी कब्ज की समस्या दूर होने लगती है। बवासीर के मस्से पर बदाम का तेल लगाने से  मस्से मुलायम हो जाते हैं और सूखने लगते हैं। बदाम के तेल में एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के कारण यह जलन और दर्द में भी राहत देने का प्रदान करता है।

पेशाब से बवासीर का इलाज

बवासीर के मर्ज के लिए नारियल का उपयोग

नारियल पेट के मर्ज को ठीक करने के लिए बहुत लाभकारी खाद्य पदार्थ माना जाता है। इसके सेवन से कब्ज की समस्या दूर होने लगती है जिससे आपके शरीर में बवासीर का मर्ज भी  ठीक लगता है। क्योंकि बवासीर का मर्ज सीधे तौर पर कब्ज की समस्या से जुड़ी होती है। क्योंकि पुरानी कब्ज होने जाने के कारण आपका मन पूरी तरह से सूख जाता है  और बाहर निकलने में बहुत ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जिसके वजह से बवासीर के मस्से छील  जाते हैं और उसमें संक्रमण फैलने लगता है।

coconut oil

बवासीर का इलाज अंजीर से

अंजीर एक प्रकार का सूखा फल है। जोकी आपके पेट और त्वचा संबंधी रोग को ठीक करने और पौरुष शक्ति को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। इसीलिए इसको बवासीर के मर्ज को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि  बवासीर का मर्ज  पेट और  त्वचा से जुड़ा हुआ है। क्योंकि इस मर्ज में कब्ज होने के कारण आपका मल पूरी तरह से सूख जाता है और बाहर नहीं निकल पाता है। त्वचा से जुड़ा हुआ मर्ज इसिलए  माना जाता है क्योंकि  मर्ज में आपके मल के रास्ते की  त्वचा में संक्रमण हो जाने के कारण बहुत ज्यादा जलन और दर्द होने लगता है।

अंजीर को खाने से आपकी पाचन शक्ति मजबूत होती है और एसिडिटी की समस्या दूर होती है जिसकी वजह से आप का खाना बहुत ही आसानी से पचने लगता है।  आपके पेट में कब्ज की समस्या खत्म होने से बवासीर का मर्जी भी ठीक होने लगता है। 

अंजीर

बवासीर के मर्ज के लिए जीरे का प्रयोग

 बादी बवासीर में जलन और दर्द को खत्म करने के लिए जीरे का उपयोग किया जा सकता है।  क्योंकि इसमें बहुत सारे ऐसे  एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो कि आप की जलन और दर्द की समस्या को खत्म करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं।  इसीलिए  जीने में हल्का सा पानी मिलाकर इसको पीस लेना चाहिए और इसके लगाने से बवासीर के प्रभावित क्षेत्र में आराम  देखने को मिल सकता है। इसको लगाने से आपके बवासीर के मस्से भी  सूखना शुरू हो जाता है।

पेशाब से बवासीर का इलाज

निष्कर्ष

इस पूरे लेख में पेशाब से बवासीर का इलाज के बारे में बताया गया है।  पेशाब से बवासीर का इलाज संभव नहीं है।  इसीलिए इस लेख में इससे होने वाली दिक्कतों और सावधानियों के बारे में भी विस्तार से बताया गया है जिनका इस्तेमाल करके आप बहुत सारी दिक्कतों से बच सकते हैं।  क्योंकि पेशाब की वजह से आपको बहुत सारे संक्रमण और दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।  इस लेख में  बवासीर के मर्ज में गोमूत्र के इस्तेमाल  के बारे में भी बताया गया है  और बहुत सारे ऐसे घरेलू उपचार बताए गए हैं जिनका उपयोग करके आप अपने  बवासीर के मरीज को बहुत ही आसानी से ठीक कर सकते हैं। 

FAQ

पेशाब से बवासीर कैसे ठीक करें?

पेशाब से बवासीर के मर्ज को ठीक करने के लिए कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं है और किसी भी शोध  मैं पेशाब के मर्ज  को ठीक करने के बारे में जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है इसलिए पेशाब से बवासीर ठीक नहीं हो सकता।  पेशाब के कारण  आपके शरीर में बहुत सारे  इंफेक्शन भी फैल सकते हैं। इसलिए आपको ऐसी अफवाहों में न पड़ते हुए पेसाब का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 

क्या बवासीर पेशाब में बाधा डाल सकती है?

बवासीर आप के पेशाब में बाधा डाल सकती है क्योंकि इस मर्ज में आपके पेट में कब्ज हो जाता है जो कि खाना ना पचने और यूरिन के  सही से ना फिल्टर होने के कारण  ऐसा होता है।  इसीलिए किस मर्ज में मूत्र मार्ग में भी कुछ संक्रमण देखने को मिल सकता है।

क्या करें बवासीर में तुरंत आराम के लिए?

बवासीर में तुरंत आराम के लिए आपको मस्से को  सुखाने वाली क्रीम और एलोपैथिक दवाओं का इस्तेमाल करना चाहिए।

Leave a Comment