गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें | अपनाएं ये उपाय

गर्भधारण करना प्रत्येक स्त्री के जीवन का सबसे मूल्यवान पल होता है। प्रेगनेंसी के संकेत मिलने पर महिलायें खुशी से झूम उठती हैं। उन्हें दुनिया की सारी खुशियाँ एक ही पल में मिल जाती हैं। परन्तु कभी-कभी जाने अनजाने लडका लडकी के मध्य शारीरिक सम्बन्ध बनने पर गर्भ ठहर जाता है। बहुत बार देखने को मिलता है कि शादी से पूर्व ही अनप्लान्ड प्रेगनेन्ट हो जाती है। भारतीय समाज में विवाह से पूर्व गर्भवती होना या शादी से पूर्व शारीरिक सम्बन्ध बनाना गलत माना जाता है। आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय

गलती से प्रेगनेंट हुई महिला तनाव में आ जाती है। कभी कभी लडकियाँ अनियोजित गर्भ के लिए तैयार नहीं होती हैं। वह एक तरह के डिप्रेशन में चली जाती हैं। अनचाही गर्भावस्था असामान्य नहीं है। कभी कभी लडकियों को इसका सामना करना पड सकता है। ऐसी अनप्लांड प्रेगनेंसी में महिला के पास दो ही विकल्प बचते हैं। या तो प्रेगनेंसी को कन्टीन्यू करें अथवा अबार्शन करायें।

अनचाही गर्भधारण से बचने के लिए सर्वोत्तम दवाईयां

Best Buy









Yasmin Pill



  • आयुर्वेदिक
  • No Side Effect
  • पूर्णरूप से आयुर्वेदिक
Budget Pick









Saheli



  • अधिक असरदार
  • 100% असरदार
  • सुरक्षित
Trending Buy









I Pill



  • पूर्ण सुरक्षित
  • पूर्णरूप से फायदेमंद
  • अद्भुत परिणाम

प्रेगनेंसी टैस्ट करायें

प्रेगनेंसी टैस्ट

यदि आपकी पार्टनर को गर्भधारण करने के लक्षण जैसे उल्टी आना, सिर दर्द, चक्कर आना, मितली आना, आदि महसूस हो रहे हैं तो सबसे पहले प्रेगनेंसी टेस्ट करना आवश्यक है। प्रेगनेंसी सिम्टम्स दिखने पर आप प्रेगनेंसी टैस्ट किट जैसे Prega News, I Can Pregnancy Test Kit आदि बाजार में उपलब्ध टैस्ट किट का प्रयोग कर प्रेगनेंसी कन्फर्म कर सकते हैं। यदि प्रेगनेंसी किट में दो रेड लाइन ( 2 लाल रेखाऐं ) दिख रही हैं तो यह प्रेगनेंट होने का संकेत हैं। हालांकि कभी कभी प्रेगनेंसी किट का रिजल्ट भी गलत आ सकता है तो बेहतर यही होगा कि आप अपनी गर्लफ्रेंड को हास्पीटल ले जाकर टैस्ट करायें और गर्भधारण की पुष्टि कर लें।

सलाह जरूर लें

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। यदि अनचाहा गर्भधारण करने के उपरान्त आप दोनों ही निर्णय नहीं ले पा रहे हैं कि आपको क्या कदम उठाना चाहिए, तो आपको एक ऐसे व्यक्ति की आवश्यकता है जो आपको सही सलाह कर सके। ऐसा व्यक्ति आपके घर का कोई बुजुर्ग या आपका कोई मित्र भी हो सकता है परन्तु याद रहे कि आप इस बात का जिक्र उसी व्यक्ति से करें जिस पर आपको पूरा भरोसा हो जो आपकी मदद करे न कि आप को किसी मुसीबत में डाल दे।

डॉक्टर से सम्पर्क करें सलाह लें

Contact to Doctor

यदि आप कन्फर्म हैं कि आपकी पार्टनर प्रेगनेंट है। तो किसी भी प्रकार का स्टेप लेने से पहले डाक्टर से सम्पर्क अवश्य करें। आपको प्रेगनेंसी जारी रखनी है, अबॉर्शन कराना है या किसी भी प्रकार की मैडीसन लेनी है तो डाक्टर से परामर्श जरूर लें। एक डॉक्टर ही आपको सही एडवाइज करेगा कि भविष्य में आपको किन किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

निर्णय लेने से पूर्व सोचे

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। गलती से प्रेगनेंसी (गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें) ठहरने की स्थिति में कोई भी फैसला जल्दबाजी में न लें। अपनी पार्टनर / महिला मित्र से इस बारे में बात करें। यदि आपके परिजन सपोर्टिव हैं और आप को लगता है। कि आप दोनो के परिवार वाले आपकी बात सुनेंगे और आपका साथ देंगे तो यह बात अपने परिवार में रखें। शादी इस समस्या का सबसे बेहतर समाधान है।

अपनी महिला मित्र को अकेला न छोडे

अपनी महिला मित्र को अकेला न छोडे

गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें ऐसे में आपको अपने पार्टनर को गलती से भी अकेला न छोडे उस पर गुस्सा न करें। प्रेगनेंसी के बाद महिला / लडकी के शरीर में शरीर में बहुत से बदलाव आते हैं। महिला के शरीर के हार्मोन्स इम्बैलेंस होते हैं। उस पर भी शादी से पहले का गर्भधारण महिला को एक अलग तनाव देता है। इसलिये ऐसे वक्त में अपने पार्टनर को कभी न छोडे । हर निर्णय में उसका साथ दें।

घरेलू नुस्खे न अपनायें

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। अनप्लांड प्रेगनेंसी आपके एवं आपके साथी के लिए एक गम्भीर स्थिति है। वर्तमान समय में चिकित्सक के अनुसार गर्भधारण के पहली और दूसरी तिमाही में गर्भपात कराया जा सकता हैअगर आप डाक्टर की सलाह लेकर जल्दी अबार्शन करा लें वह आपके व आपके शरीर के लिये अच्छा है। गर्भपात के लिये सुने सुनाये घरेलू नुस्खे न अपनाए यह आपको भविष्य में समस्या उत्पन्न कर सकता है।

गर्भपात करवांए

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। अगर किसी कारणवश आप और आपका साथी शादी के बंधन में नहीं बंध पा रहे हैं तो ऐसी स्थिति में गर्भपात कराना ही एकमात्र विकल्प है। गर्भपात कराने के भिन्न भिन्न उपाय प्रेगनेंसी के टाइम पर निर्भर करता है। यदि आपकी प्रेगनेंसी की शुरूआत है तो आप गर्भ निरोधक टेबलेट (Contraceptive Pills) जैसे I-pill, Unwanted 72 etc. का प्रयोग कर गर्भ को नष्ट कर सकते हैं। यदि आपके गर्भधारण को अधिक समय हो चुका है तो लेडी डाक्टर (Gynecologists’) से कंसल्ट कर ही निर्णय लें। डाक्टर द्वारा गर्भपात कराने के उपरान्त अपने साथी को अकेला न छोडे क्योंकि अबॉर्शन के बाद महिला के शरीर में कमजोरी आती है । गर्भपात कराने के उपरान्त चक्कर आना व कमजोरी आम बात है उसे रिकवरी के लिये आराम की आवश्यकता होती है।

गर्भनिरोधक गोली (Contraceptive Pills)

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। गर्भनिरोधक गोलियां ऐसी गोलियां होती हैं। जिनका प्रयोग असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के 72 घंटे के अंदर प्रयोग किया जाता है। इन गोलियों के प्रयोग से महिलाएं असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण से बचने के लिए करती हैं। इन दवाओं को मॉर्निंग पिल गर्भनिरोधक दवाइयां आज विभिन्न प्रकार के नामों से जाना जाता है। जो महिलाओं को असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण से बचाती हैं, यह दवाइयां निम्नलिखित।

  • आई पिल (I Pill)
  • सहेली (Saheli)
  • अनवांटेड 72 (Unwanted – 72)
  • प्रीवेंटोल टैबलेट (Preventor Pill)
  • इजी पिल (Ezy Pill)
  • नो – विल पिल (No Will Pill)
  • रासमिन टेबलेट (Rasmi Pill)
  • बंधन टैबलेट (Bandhan Pill)
  • चाइस टैबलेट (Choice Tablet)
  • एमटी पिल (MT Pill)
आई पिल (I Pill)

आई पिल (I Pill)

आइए जानते हैं अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के सर्वोत्तम उपाय। आई पिल (I Pill) का प्रयोग अनचाहे गर्भ से बचने के लिए किया जाता है। जो महिलाएं असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भवती होना नहीं चाहती या फिर उस समय उनको किसी बच्चे की आवश्यकता नहीं होती है। तो वह गर्भधारण से बचना चाहते हैं ऐसी परिस्थितियों में यदि आपने असुरक्षित यौन संबंध स्थापित तो आपको गर्भधारण रोकने की टैबलेट आई पिल (I Pill) का प्रयोग असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के बाद 72 घंटों के अंदर ले सकते हैं। 

सहेली (Saheli)

सहेली (Saheli)

सहेली (Saheli) एक गर्भ निरोधक टेबलेट है। जिसका प्रयोग असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है। यदि आप किसी समय अपने जीवनसाथी यह किसी पुरुष साथी के साथ असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं। तो आपके गर्भवती होने के  चांस रहते हैं लेकिन उस समय आप बच्चे को कंसीडर नहीं कर सकती हैं। या फिर उस समय आप किन्ही कारणों गर्भवती नहीं होना चाहती हैं। तो आपको बात पर घंटों के अंदर गर्भ निरोधक टेबलेट सहेली (Saheli) का प्रयोग करना चाहिए। जिसके प्रयोग से असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण नहीं होता है। अर्थात यह एक प्रकार की गर्भ निरोधक टेबलेट है यह गर्भनिरोधक टैबलेट है। और इसका प्रयोग गर्भपात के रूप में नहीं किया जा सकता है।

यास्मीन टेबलेट (Yasmin Pill)
रासमिन टेबलेट (Rasmin Pill)

यास्मीन टेबलेट (Yasmin Pill) का प्रयोग असुरक्षित संबंध स्थापित करने के 72 घंटों के अंदर गर्भ निरोधक टेबलेट के रूप में किया जाता है। जो महिलाएं असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं किंतु वह इस समय गर्भधारण करना नहीं चाहते हैं या फिर गर्भधारण के लिए तैयार नहीं होती हैं। उनको असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात 2 घंटे के अंदर यास्मीन टेबलेट (Yasmin Pill)  का प्रयोग करना चाहिए। जिससे वह गर्भधारण से पूछ सकती हैं जिन महिलाओं में पीरियड के अनियमितता के कारण पीरियड डेट का सही पता नहीं लग पाता है। जिसके कारण वे गर्भ धारण कर लेती हैं या गर्भ धारण नहीं करना चाहती हैं। किंतु असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं उनको संबंध स्थापित करने के 72  घंटे के अंदर यास्मीन टेबलेट (Yasmin Pill)  का प्रयोग करना चाहिए।

अनवांटेड 72 (Unwanted – 72)

अनवांटेड 72 (Unwanted - 72)

अनवांटेड 72 (Unwanted – 72) एक गर्भरोधक टैबलेट है। जिसका प्रयोग गर्भधारण से बचने के लिए असुरक्षित सेक्स करने के बाद 72 घंटों के अंदर लिया जाता है। जिससे असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात भी गर्भधारण से बची रह सकती हैं। जो महिलाएं गर्भवती नहीं होना चाहती हैं या फिर उनको बच्चे की जरूरत नहीं है। और उन्होंने असुरक्षित यौन संबंध स्थापित किया है। किंतु वह गर्भधारण से बचना चाहती हैं यह महिलाएं अनवांटेड 72 टैबलेट का प्रयोग सेक्स करने के 72 घंटे के अंदर ले सकते हैं। जिसके प्रयोग से गर्भधारण से बचा जा सकता है। किंतु इसका प्रयोग गर्भपात के रूप में नहीं किया जा सकता है गर्भपात के लिए अनवांटेड टेबलेट का प्रयोग डॉक्टर को सलाह से किया जा सकता है।

प्रीवेंटोल टैबलेट (Preventol Pill)

Preventol Pill)

प्रीवेंटोल टैबलेट (Preventol Pill) एक प्रकार की गर्भ निरोधक टेबलेट है। जिसका प्रयोग असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है। जो महिलाएं अपने हस्बैंड और बॉयफ्रेंड के साथ असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं। किंतु वह गर्भधारण से बचना चाहती हैं क्योंकि वह समय बच्चे को कंसीडर करने के लिए तैयार नहीं रहती हैं। जिस कारण उनको गर्भधारण की आवश्यकता नहीं होती है गर्भधारण से बचने के लिए महिलाएं प्रीवेंटोल टैबलेट (Preventol Pill)  का प्रयोग करती हैं। इससे वे असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात भी गर्भधारण से बची रह सकती हैं।

इजी पिल (Ezy Pill) 

जिन महिलाओं को बच्चे की आवश्यकता नहीं होती है। या फिर वह परिवार नियोजन को अपनाना चाहती हैं किंतु असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं। और इस असुरक्षित यौन संबंध के पश्चात वह धर्म धारण करना नहीं चाहती हैं। उनको असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात इजी पिल (Ezy Pill)  का प्रयोग करना चाहिए जिससे गर्भधारण से तो सकती हैं। असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के 72 घंटे के अंदर इजी पिल (Ezy Pill)  का प्रयोग करना आवश्यक होता है। 72 घंटे के बाद इजी पिल (Ezy Pill)  काम नहीं कर सकती है उसके पश्चात आपको ग्रुप की दवाओं का प्रयोग करना पड़ सकता है।

नो – विल पिल (No Will Pill)

नो - विल पिल (No Will Pill)

नो – विल पिल (No Will Pill) का प्रयोग गर्भ निरोधक टेबलेट के रूप में महिलाओं द्वारा किया जाता है। या महिलाओं को असुरक्षित यौन संबंध के पश्चात गर्भधारण से बचने के लिए प्रयोग की जाती है। इसके प्रयोग से असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात भी महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं। जिन महिलाओं को गर्भ धारण नहीं करना होता है वह असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के 72 घंटे के अंदर इसका प्रयोग कर सकती हैं। नो – विल पिल (No Will Pill) का प्रयोग  गर्भनिरोधक के रूप में किया जाता है इसका प्रयोग  गर्भपात के रूप में नहीं कर सकते हैं।

इसे भी जानें :- महिलाओं में ब्रेस्ट ढीले व छोटे होने का कारण | छोटे दूध कैसे बड़े करें | ब्रेस्ट ग्रोथ टिप्स

बैन्ड्रोन 150 टैबलेट

बैन्ड्रोन 150 टैबलेट एक गर्भ निरोधक टेबलेट है जिसका प्रयोग  असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है। जो महिलाएं असुरक्षित यौन संबंध से होने वाले गर्भधारण से बचना चाहती हैं। और अभी करो दान करना नहीं चाहती हैं या फिर उन्होंने किसी ऐसे पुरुष के साथ संबंध स्थापित किया है। जिसके द्वारा उनको गर्भधारण करने की आवश्यकता नहीं है। ऐसे गर्भधारण से बचने के लिए महिलाएं गर्भधारण को रोकने वाली टेबलेट का प्रयोग करती हैं।  जिसमें बैन्ड्रोन 150 टैबलेट एक बहु प्रचलित टैबलेट है जिसका प्रयोग अनेक महिलाओं द्वारा गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है।

चॉइस टेबलेट (Choice Tablet)

Choice Tablet

चॉइस टेबलेट का प्रयोग असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात आने वाले गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है। जो महिलाएं सेक्स के पश्चात धर्म धारण करना नहीं चाहती हैं वह सेक्स करने के 72 घंटे के अंदर गर्भधारण को रोकने वाली दवाओं का प्रयोग करती हैं। ऐसे ही गर्भधारण करने के लिए चॉइस टेबलेट  का प्रयोग किया जाता है। जो महिलाएं गर्भधारण से बचना चाहती हैं। वह असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के बाद 72 घंटे के अंदर ही इसे प्रयोग कर सकती हैं। यदि 72 घंटे के बाद इसका प्रयोग किया जाता है तो यह कार्य नहीं करती है जिसके पश्चात आपको गर्भपात की दवाओं का प्रयोग डॉक्टर की सलाह करना चाहिए।

एमटी पिल (MT Pill)

एमटी पिल (MT Pill)

एमटी पिल (MT Pill) एक प्रकार की गर्भ निरोधक टेबलेट है। जिसका प्रयोग असुरक्षित गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है जो महिलाएं किसी पुरुष के साथ असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करती हैं। किंतु उस समय वह गर्भधारण करना नहीं चाहती हैं। गर्भधारण न करने के विभिन्न कारण हो सकते हैं जिसके कारण वह गर्भधारण नहीं करना चाहती हैं। ऐसी स्थिति में महिलाओं को गर्भपात से बचने के लिए गर्भधारण को रोकने वाली दवाओं का प्रयोग सेक्स करने के 72 घंटे के अंदर लेना चाहिए असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने के पश्चात होने वाले गर्भ से बचने के लिए एमटी पिल (MT Pill) का प्रयोग किया जा सकता है या एक सुरक्षित दवा है।

उपरोक्त दी गयी टैबलेट्स का प्रयोग डाक्टर से परामर्श करने के उपरान्त ही करें, क्योंकि इन गर्भ निरोधक गोलियों के प्रयोग से दीर्घकालिक नकारात्म प्रभाव (Side Effect) और नुकसान हो सकता है ।

गर्भधारण के मुख्य कारण

यदि लड़का और लड़की अनप्राटेक्टेड यौन सम्बन्ध बनाते हैं। और गर्भ ठहरने के चांस बढ जाते हैं । यहाँ हम आपको बतायेंगे कि गर्भ धारण के कौन कौन से मुख्य कारण हो सकते हैं ।

  • सेफ्टी यूज न करने से आपका पार्टनर प्रेगनेंट हो सकता है ।
  • निरोध (Condom) का प्रयोग न करना भी आपके महिला मित्र के गर्भ धारण का एक मुख्य कारण हो सकता है ।
  • महावारी (Menstrual Period) से के 8 दिन से 20 दिन के अंदर सैक्स (Sex) करने से लड़की प्रैगनेंट हो सकती है ।
  • पुरूष / लडके का वीर्य (Semen) लडकी की यौनी में अंदर जाने से महिला गर्भवती हो सकती है ।
  • सम्भोग (Intercourse) के बाद गर्भनिरोधक दवा का सेवन न करने पर भी लडकी प्रेग्नेंट हो सकती है ।

अनचाही प्रेग्नेंसी को रोकने के उपाय

अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के लिए नीचे कुछ आयुर्वेदिक एवं प्रेग्नेंसी रोकने के घरेलू तरीके बताए गए हैं जिन्हें आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • शारीरिक सम्बन्ध बनाते समय कंडोम (Protection) का प्रयोग करें ।
  • कपास की जड़ को पीसकर इसका चूर्ण तैयार कर लें एवं इसका प्रयोग प्रतिदिन पानी के साथ करने से अनचाहा गर्भधारण के चांस कम हो जाते हैं ।
  • अखरोट (Wall nut) के छिलके को पानी में उबाल लें एवं उवले पानी में शहद मिलाकर सेवन करने से प्रेग्नेंट होने की कम सम्भावना होती है ।
  • अंजीर (Fig) का सेवन महिलाओं में अनचाही प्रेगनेंसी को रोकता है ।
  • कच्चा पपीता महिला के यूट्रस में कसाव पैदा करता है, जिससे महिला के प्रेगनेंसी के संयोग कम हो जाते  हैं ।
  • अदरक को पानी में उवालकर या अदरक वाली चाय से भी अनप्लांड प्रेगनेंसी पर कंट्रोल किया जा सकता है ।
  • वर्तमान में महिलाओं के लिये भी निरोध (Condom) बाजार में उपलब्ध हैं, जिनका प्रयोग कर अनचाहा गर्भधारण रोका जा सकता है ।
  • अनप्लाण्ड प्रेगनेंसी से बचने के लिये आप पार्सले की पत्तयों को पानी में उबालकर प्रयोग कर सकती हैं, यदि आपकी प्रेग्नेंसी कन्फर्म है और शुरूआती दिन हैं तब भी आप पार्सले की पत्तियों से बनी चाय का प्रयोग कर स्वयं गर्भपात कर सकती हैं ।
  • अनचाहे गर्भ से बचने के लिये आप नीम टैबलेट या नीम तेल का प्रयोग कर सकती हैं ।
  • यदि आप प्रतिदिन 1500 mg. बिटामिन सी का उपभोग करेंगी तो गर्भ नहीं ठहरेगा ।

प्रेग्नेंसी चैक करने के घरेलू तरीके

  • विनेगर (सिरका) में पेशाब मिलाने पर यदि विनेगर का रंग बदल रहा है तो माना जाता है कि महिला गर्भवती है ।
  • कांच पर पेशाब डालने के कुछ समय बाद यदि कांच पर सफेद लाइन बन जाये तो माना जाता है कि लडकी प्रेग्नेंट है ।
  • ब्लीच पाउडर में यदि यूरिन डालने पर बुलबुले बनने लगे तो माना जाता है कि महिला गर्भवती है ।
  • यदि टूथपेस्ट में पेशाव मिलाया जाये और टूथपेस्ट का रंग बदलकर नीला हो जाये तो यह महिला के प्रेग्नेंट है ।

निष्कर्ष

यदि कोई लड़की गलती से प्रेगनेंट हो जाती है। तो इसका एक नकारात्मक प्रभाव उसके भविष्य पर पड़ता है। आपने इस पोस्ट के माध्यम से जाना कि यदि गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें। आप ऊपर दिये गये बिन्दुओं पर विचार कर आसानी से निर्णय ले सकते हैं कि अनचाही प्रेगनेंसी में आपको क्या करना चाहिये।

लोगों द्वारा पूछे गए कुछ प्रश्न

प्रेग्नेंट नहीं होना चाहते हैं तो क्या करें?

यदि आप प्रेग्नेंट नहीं होना चाहते हैं। तो उपरोक्त लेख में विभिन्न प्रकार की औषधियों का वर्णन किया गया है जिन के अध्ययन के पश्चात दवाओं के प्रयोग से आप प्रेग्नेंट होने से बच सकते हैं। किंतु आप यदि सावधानी को अपनाने के बाद भी प्रेग्नेंट हो जाती हैं। तो इसके लिए आप के लिए गर्भपात की दवा का वर्णन किया गया जिनका प्रयोग करके आप अपना गर्भपात करा सकती हैं।

मैं 1 महीने की गर्भवती हूं और मुझे यह बच्चा नहीं चाहिए कौन सी गोलियां?

यदि आप 1 महीने की गर्भवती हैं तो आपको गर्भपात की दवा का सेवन करना होगा उपरोक्त लेख में विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक तथा एलोपैथिक दवाओं का वर्णन किया गया है। जिन के अध्ययन के पश्चात प्रयोग करने से गर्भपात कराया जा सकता है। गर्भपात कराने के लिए डॉक्टर से परामर्श करने के बाद ही दवाओं का प्रयोग करें डॉक्टर आपकी शारीरिक संरचना के अनुसार आपको दवाओं की प्रयोग तथा मात्रा की विधि बताएंगे जिससे आप सुरक्षित गर्भपात करा सकते हैं अनवांटेड नाम की टेबलेट का प्रयोग कर सकते हैं।

क्या पीने से गर्भ गिर जाता है?

उपरोक्त लेख में विभिन्न प्रकार की दवाओं का वर्णन किया गया है। जिनके प्रयोग के बाद आप अपने गर्भ को गिरा सकते हैं लेख में विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक तथा एलोपैथिक दवाओं का वर्णन किया गया है। जिनमें कुछ टेबलेट तथा कुछ पीने की दवाइयां का वर्णन किया गया है। जिस के अध्यन के पश्चात दवाओं का प्रयोग करते हुए गर्भ गिराया जा सकता है यदि आप अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाना चाहते हैं। तो आई पिल्ल, अनवांटेड आदि प्रकार की टेबलेट का प्रयोग कर सकते हैं।

Leave a Comment