पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय | ज्यादा समय तक संभोग कर पाने में होंगे सक्षम

आजकल पुरुषों में कामेच्छा की कमी बहुत ज्यादा देखने को मिल रही है। पुरुषों में कामेच्छा की कमी से बहुत सारी यौन समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं जो कि उनको बहुत सारी परेशानियों में डाल सकतीं  हैं। इसीलिए पुरुषों में ऐसी समस्याओं को तुरंत दूर करना ही सबसे बेहतर विकल्प माना जा सकता है।पुरुषों में कामेच्छा की कमी की वजह से उनको अपनी  महिला साथी के सामने शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। जो कि उनके अंदर आत्मविश्वास की कमी और शारीरिक कमजोरी का एहसास दिलाता है। पुरुषों में कामेच्छा की कमी की वजह से यौन संबंध स्थापित नहीं हो पाते हैं जिसकी वजह से जोड़ियों के बीच में बहुत सारी  दिक्कतें पैदा होने लगतीं हैं। जोकि रिश्तो को तोड़ने के लिए जिम्मेदार मानी जाती हैं। जब भी किसी पुरुष में कामेच्छा की कमी की वजह से उनकी महिला साथी उनसे संतुष्ट नहीं होती हैं। तो  वह शारीरिक सुख के लाभ के लिए अवैध संबंधों को जन्म देने लगती हैं।  जिसकी वजह से उनके और उनके पुरुष साथी के बीच में दूरियां आने लगती हैं।

Best Buy









पतंजलि अश्वशीला



  • आयुर्वेदिक
  • अधिक असरदार
  • पूर्णरूप से आयुर्वेदिक
Budget Pick









ब्राम्ही घृत



  • No Side Effect
  • 100% असरदार
  • सुरक्षित
Trending Buy









पतंजलि विटामिन सी



  • पूर्ण सुरक्षित
  • पूर्णरूप से फायदेमंद
  • अद्भुत परिणाम

 

इसीलिए ऐसी समस्याओं से बचने के लिए पुरुषों को अपनी कामेच्छा को बढ़ाने के लिए कुछ घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करना चाहिए। जिससे  आप अपने अंदर कामेच्छा को बढ़ा सकते हैं। विटामिन से पोषित खाद्य पदार्थों का सेवन करना, जिंक पोषित खाद्य पदार्थों का सेवन करना आपकी कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होता है और यह सभी खाद्य पदार्थ पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय के रूप में  इस्तेमाल  किए जाते हैं।  इसीलिए हम इस लेख में कामेच्छा की कमी के मुख्य कारणों के बारे में विस्तार से बताएंगे| जिनको जानने के बाद आप उसके सही इलाज और सही  दवाओं के बारे में जान सकेंगे। इस लेख में उन सभी प्रमुख दवाओं के बारे में भी बताया गया है| जो कि कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकती हैं। 

पुरुषों में कामेच्छा की कमी के कारण 

पुरुषों में कामेच्छा की कमी कई कारणों की वजह से हो सकती है। क्योंकि पुरुषों में कामेच्छा की कमी के लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी को भी सबसे बड़ा कारण माना जाता है। इसको पुरुषों में सेक्स हार्मोन के रूप में भी जानते हैं जो कि कम हो जाने के कारण आपके शरीर में  यौन समस्याएं उत्पन्न कर सकता है। पुरुषों में कामेच्छा की कमी की वजह से आपको बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है क्योंकि कामेच्छा की कमी एक ऐसी समस्या है जिससे कि आप ज्यादा अधिक समय तक संभोग नहीं कर पाते हैं और अपने महिला साथी को  संतुष्ट नहीं रख पाते हैं जिसकी वजह से आपकी महिला साथी आपसे संतुष्ट नहीं रहती है और आपसे उनका विश्वास कम होने लगता है। जो कि किसी भी स्वस्थ संबंध के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। इसीलिए कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए आपको सबसे पहले इसके कारणों के बारे में पता करना चाहिए । जिससे आप उसका सही इलाज कर पाएंगे जिससे की कामेच्छा की कमी दूर हो जाएगी। तो आइए ऐसे ही कारणों को जानने की कोशिश करते हैं जो कि कामेच्छा  की कमी  को जन्म देने के लिए जिम्मेदार माना जाता है।

  • मानसिक तनाव के कारण  कामेच्छा में कमी
  • नींद ना पूरी होने से कामेच्छा में कमी
  • बढ़ती उम्र का प्रभाव
  • शारीरिक थकान
  • शरीर में किसी प्रकार की पुरानी  बीमारी
  • रक्तचाप की दवाओं के कारण 
  •  टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी  के कारण
  • व्यायाम न करने के कारण 
  • अत्यधिक धूम्रपान
  • मधुमेह की समस्या

मानसिक तनाव के कारण  कामेच्छा में कमी

किसी भी मनुष्य के अंदर मानसिक तनाव की समस्या हो जाने की वजह से बहुत सारी चीजें प्रभावित होने लगती है। मानसिक तनाव के कारण ही पुरुषों में कामेच्छा की कमी देखी जा सकती है। मानसिक तनाव की वजह से ही पुरुष संभोग करते समय बहुत ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाते हैं और शीघ्रपतन के शिकार हो जाते हैं जिससे कि उनको संभोग करने में बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जिससे एक अच्छा यौन संबंध स्थापित करने में कठिनाई होती है। मानसिक तनाव के दवाओं के कारण भी पुरुषों में कामेच्छा की कमी देखी जा सकती है।  इसीलिए कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए आपको मानसिक तनाव को भी दूर करने के लिए इलाज करना चाहिए।

नींद ना पूरी होने से कामेच्छा में कमी

बहुत सारे शोध में पाया गया है कि आपकी  नींद ना पूरी होने की वजह से भी  आपको कम अच्छा की कमी की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।क्योंकि नींद पूरी होने कोई जैसे शरीर पूरी तरह से थका हुआ होता है और  शारीरिक थकान की वजह से भी  कामेच्छा की कमी हो सकती है। नींद न पूरी होने को जैसे आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा भी कम पड़ने लगती है। जो कि यौन समस्याओं को देने के लिए  जिम्मेदार माना जाता।  टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी की वजह से  कामेच्छा की कमी होने लगती है।  जिससे आप ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाते हैं।

बढ़ती उम्र का प्रभाव

पुरुषों में बढ़ती उम्र के प्रभाव की वजह से भी कामेच्छा की कमी होने लगती है क्योंकि बढ़ती उम्र में आपके शरीर में बहुत सारे ऐसे हार्मोन कम होने लगते हैं जो कि संभोग शक्ति को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार माने जाते हैं। संभोग शक्ति को बढ़ाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण हार्मोन टेस्टोस्टोरेन कम हो जाता है जिससे कि आपके अंदर कामेच्छा की कमी देखी जा सकती है। जोकि आपको 60 से  65 साल की उम्र वाले व्यक्तियों में ज्यादा देखी जा सकती है। लेकिन 50 साल के बाद से ऐसी  समस्याएं होना शुरू हो जाती हैं। इसीलिए बढ़ती उम्र में ऐसी समस्याओं से बचने के लिए आपको अपने खानपान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए और  शारीरिक गतिविधियां करते रहनी चाहिए।

शारीरिक थकान की वजह से 

 शारीरिक थकान एक ऐसा  कारण माना जाता है जो कि आपको कामेच्छा की कमी जन्म देने के लिए बहुत ही जिम्मेदार कारणों में से एक है। आपके शरीर में शारीरिक थकान होने की वजह से आप बहुत ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाते हैं और आपके शरीर में कामेच्छा की कमी रह जाती हैं।  कामेच्छा की कमी रहने की वजह से  आप बहुत जल्दी शीघ्रपतन का शिकार हो जाते हैं। शीघ्रपतन के शिकार होने से आपको बहुत ज्यादा मानसिक तनाव के भी स्थिति पैदा हो सकती है। जोकि कामेच्छा की कमी के लिए जिम्मेदार माना जाता है। इसीलिए ऐसी दिक्कतों को दूर करने के लिए आपको अपने शारीरिक थकान को खत्म करने पर ध्यान देना चाहिए।  जिससे आपके अंदर  कामेच्छा की कमी ना हो।

शरीर में किसी प्रकार की पुरानी बीमारी

पुरुषों में कुछ ऐसी पुरानी बीमारियां होती हैं जिसके वजह से आपकी  कामेच्छा सीधे तौर पर प्रभावित हो सकती है। पुरानी बीमारी होने की वजह से आपके शरीर में कामेच्छा की कमी हो सकती है। पुरानी बीमारी में आप बहुत दिन से जो दवाओं का सेवन कर रहे हैं। वह भी कामेच्छा की कमी को जन्म देने के लिए सबसे जिम्मेदार काला कारण हो सकते हैं।  इसीलिए आपके साथ ऐसी भी किसी भी समस्या  मैं आपको सबसे पहले चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। उनको अपनी सारी समस्याओं के बारे में बताना चाहिए। जिससे  आपके अंदर  उन बीमारियों  की वजह से हो रही कामेच्छा की कमी को दूर किया जा सके।

रक्तचाप की दवाओं के कारण 

अगर आपके अंदर हाई बीपी की समस्या है तो आपकी कामेच्छा प्रभावित हो सकती है क्योंकि हाई बीपी में आप जो दवाएं इस्तेमाल करते हैं वह सीधे तौर पर आपके टेस्टोरोन हार्मोन को कम करने का काम करती हैं जिसकी वजह से आपके काम इच्छा प्रभावित होने लगती है और आप बहुत ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाते हैं। बहुत ज्यादा देर तक संभोग करने की वजह से आप शीघ्रपतन का शिकार हो जाते हैं। पुरुषों में कामेच्छा की कमी और शीघ्रपतन की समस्या  एक बड़ी यौन समस्या मानी जाती है। इसको बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए इसके इलाज के लिए आपको आयुर्वेदिक दवाओं का सहारा लेना चाहिए।

टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी  के कारण

पुरुषों में यौन समस्याओं को खत्म करने के लिए सबसे प्रमुख  हार्मोन टेस्टोस्टेरोन को ही माना जाता है। स्टूडेंट आपके शरीर में शुक्राणु को बढ़ाने  मैं भी मदद करता है। आपके शरीर में अगर रेस्टोरेंट की मात्रा 300 से साडे 350  डिकिलिटर है तो इसको आपके अंदर  टेस्टोस्टेरोन की कमी नहीं मानी जाती है। लेकिन 300 से 350  डिक्कीलीटर से नीचे आने पर आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी को माना जा सकता है। यस्टरडे इन हार्मोन की कमी कोई जैसे आपके शरीर में कामेच्छा की भी कमी होने लगती है और आप शीघ्रपतन के शिकार होने लगते हैं। इसीलिए इसकी कमी को दूर करने के लिए आपको आपके शरीर में पोस्टिक  आहार की कमी को दूर करना चाहिए। 

व्यायाम न करने के कारण

आपके शरीर में यौन इच्छा की कमी  पूरे शरीर में  रक्त का सही प्रवाह  ना होने की वजह से भी हो सकती है। क्योंकि जब आपके पूरे शरीर में रक्त का प्रवाह सही से नहीं होता है तो आपके शरीर में उत्तेजना कम होती है और कामेच्छा की कमी होने लगती है जिससे आप शीघ्रपतन के शिकार होने लगते हैं। रक्त का प्रवाह सही ना होने के लिए  व्यायाम न करना ही सबसे बड़ा कारण माना जा सकता है। क्योंकि व्यायाम न करने की वजह से आपके शरीर में फैट जमा होने लगता है जो कि आपके रक्त वाहिकाओं को सक्रिय करने लगता है जिसकी वजह से रक्त का प्रवाह पूरे शरीर में नहीं हो पाता है।  इसीलिए आपको नियमित व्यायाम करना चाहिए जिससे कि आपके शरीर में कामेच्छा की कमी ना हो और आप एक स्वस्थ यौन जीवन व्यतीत कर सकें।

अत्यधिक धूम्रपान

अत्यधिक धूम्रपान को भी आपके शरीर में कामेच्छा की कमी के लिए जिम्मेदार माना जा सकता है क्योंकि अत्यधिक  धूम्रपान आपके शरीर हारमोंस को इमबैलेंस कर देता है।  जिसकी वजह से आपके शरीर में कामेच्छा की कमी होने लगती है। धूम्रपान की वजह से आपके शरीर में रक्त का प्रभाव भी सही नहीं हो पाता है और रक्त का प्रवाह सही ना होने से पूरे शरीर में रक्त  पहुंच नहीं पाता है इसकी वजह से उत्तेजना कम होने लगती है और आप शीघ्रपतन का शिकार हो जाता है।

मधुमेह की समस्या

पुरुषों में कामेच्छा की कमी के लिए मधुमेह की समस्या को भी जिम्मेदार माना जा सकता है क्योंकि मधुबन के समय में आपके ब्लड में बहुत ज्यादा शुगर लेवल हो जाने की वजह से  आपको ब्लड गाढ़ा होने लगता है और रक्त वाहिकाओं में दौड़ने में बहुत ज्यादा दिक्कतें होने लगती है। जिसकी वजह से रक्त आपके शरीर के हर  अंगों तक नहीं पहुंच पाता है जो कि  कामेच्छा की कमी को जन्म देने के लिए सबसे जिम्मेदार कारण माना जाता है।  मधुमेह की समस्या  वजह से आपके शरीर में  टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी होने लगती है।  जिसकी वजह से आपके शरीर में कामेच्छा की कमी को देखा जा सकता है।

पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक दवाएँ

पुरुषों में कामेच्छा की कमी को आयुर्वेदिक दवाओं के द्वारा भी दूर किया जा सकता है। पुरुषों की शरीर में जोश बढ़ाने के तरीके के रूप में एलोपैथिक दवाओं का भी इस्तेमाल करतें हैं लेकिन आयुर्वेदिक दवाओं की बात ही कुछ अलग है। क्योंकि आयुर्वेदिक दवाओं में बहुत सारी ऐसी प्राकृतिक औषधियां होती हैं जो कि आपके शरीर में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकती है। इन दवाओं के इस्तेमाल से आपके शरीर में किसी भी प्रकार का विपरीत असर  भी नहीं होता है। जोकि  आपके शरीर में यौन समस्याओं को दूर करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है। आयुर्वेदिक दवाओं को सदियों से यौन समस्याओं को खत्म करने के लिए इस्तेमाल की जाती रही हैं।  आयुर्वेदिक दवाएं प्राकृतिक औषधियां और खाद्य पदार्थों के मिश्रण से बनी होती है। यह सभी प्राकृतिक औषधियां जंगलों और पहाड़ों पर पाई जाती हैं।  जिसको बहुत ही शोध  और रिसर्च के बाद जंगलों और पहाड़ों से निकालकर किसी न किसी दवा के रूप में हमारे आपके बीच में उपलब्ध कराया जाता है जिससे कि हम और आप इन दवाओं के इस्तेमाल से अपनी यौन समस्याओं को दूर कर सके और एक स्वस्थ और सुखी जीवन व्यतीत कर सकें। इसीलिए पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए आप आयुर्वेदिक दवाओं का बेझिझक इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • पतंजलि अश्वशीला 
  • पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल 
  • पतंजलि शतावरी चूर्ण
  • पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण
  • पतंजलि दिव्य चन्द्रप्रभा वटी
  • पतंजलि गोक्षुरादी गुग्गुल
  • पतंजलि विटामिन सी और जिंक कैप्सूल 
  • पतंजलि दिव्य मकरध्वज 
  • अश्वगंधादि लेहम 
  • ब्रमही गरिथम 

पतंजलि अश्वशीला

पतंजलि अश्वशिला पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए एक प्रकार की आयुर्वेदिक दवा है। जोकि अश्वगंधा और शिलाजीत के मिश्रण से बनी हुई है। अश्वगंधा और शिलाजीत में बहुत सारे ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं। शिलाजीत आपके शरीर में उत्तेजना को बढ़ाने और  टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी को दूर करने के लिए सबसे बेहतरीन पौधों में से एक है। इसके इस्तेमाल से आपके शरीर में मानसिक और शारीरिक  तनाव भी दूर हो जाता है जो कि समीक्षा को बढ़ाने के लिए सबसे अहम माना जाता है।  अश्वगंधा के सेवन से आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जो कि आपके शरीर के किसी भी  रूप से लड़ने के लिए बहुत ही सहायक भूमिका निभाती है। प्राचीन काल से अश्वगंधा और शिलाजीत को यौन समस्याओं को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को पुरुषों में नपुंसकता को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इस दवा को आप दूध में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं जिससे कि पुरुषों में कामेच्छा की बढ़ोतरी होती है और शीघ्रपतन जैसी समस्या भी दूर होती है।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा है जिसको पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने और यौनशक्ति बढ़ाने के उपाय के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल पतंजलि द्वारा तैयार की गई बहुत ही लाभकारी दवा मानी जाती है। जिसको संभोग समय को बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है इसको आंवला और शिलाजीत के मिश्रण से तैयार किया गया है। जो कि कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी माना जाता है। शिलाजीत आपके शरीर में ऊर्जा की स्तर को बढ़ाता है जिसकी वजह से आपके शरीर में अत्यंत  उत्तेजना उत्पन्न होती है और आपके शरीर में रक्त का संचार सही से होने लगता है। जिसकी वजह से आपके शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है और  कामेच्छा की बढ़ोतरी होती है। इस दवा के सेवन से आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता पर बढ़ने लगती है जो कि किसी भी रोग से लड़ने के लिए बहुत ही सहायक भूमिका निभाती है। इस दवा में मौजूद फोलिक एसिड की कोशिकाओं में खनिजों और  पोषक तत्व को पहुंचाने के लिए जिम्मेदार माना जाता है। जिससे कि आपके शरीर में  कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने से रोकता है और  कामेच्छा की कमी को दूर करता है। इस दवा को आप खाना खाने के बाद दूध में मिलाकर दिन भर में एक बार ले सकते हैं जिससे आपके सिर में कामेच्छा की कमी दूर होने लगते हैं।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि शतावर चूर्ण

शतावरी एक ऐसी प्राकृतिक औषधि है जो कि प्राचीन काल से ही कामेच्छा को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जाती रही है। इसके इस्तेमाल से पुरुषों में कामेच्छा की बढ़ोतरी हो सकती है। पतंजलि द्वारा तैयार किया गया  शतावरी चूर्ण  पूरी तरह से शुद्ध शतावर से तैयार किया गया है।  जिसको आप बेझिझक कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। शतावरी चूर्ण के सेवन से आपके शरीर में रक्त का प्रभाव सही दर्द होने लगता है और कोलेस्ट्रोल की कमी आती है। इस दवा को आपके शरीर में सूजन को कम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसको आप आधे चम्मच की मात्रा में दूध में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं जिससे आपके अंदर कामेच्छा के बढ़ोतरी होती है और आप बेहतर संभोग कर पाते हैं।

शतावरी चूर्ण

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण एक प्रकार के आयुर्वेदिक औषधि है जो कि पुरुषों में कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए इस्तेमाल की जाती है। इसको पुरुषों द्वारा की गई बचपन में की गई गलती हस्तमैथुन के इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। यह दवा पूर्ण रूप से शुद्ध अश्वगंधा को  पीसकर तैयार की गई है। अश्वगंधा आपके शरीर में  तीव्र काम इच्छा को बढ़ाने  और शीघ्रपतन जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल की जाती है।  अश्वगंधा चूर्ण  पाउडर नुमा  होती है  जिसको आप  कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए दूध में  मिलाकर पी सकते हैं। जिसे आपके शरीर में बहुत जल्द काम इच्छा की कमी दूर होने लगती है और आप ज्यादा लंबे समय तक संभोग कर पाते हैं और शीघ्रपतन का शिकार नहीं होते हैं।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि दिव्य चन्द्रप्रभा वटी

पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए  ज्यादातर चिकित्सक पतंजलि दिव्य चंद्रप्रभा वटी को इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। इसीलिए पुरुषों में  कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए आप पतंजलि दिव्य चंद्रप्रभा वटी को इस्तेमाल कर सकते हैं। यह पूर्ण रूप से  प्राकृतिक औषधियों से तैयार की गई है। जिसके इस्तेमाल से आपके शरीर पर कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ता है। इसको आंवला, कपूर, नगरमुस्तका , अदरक, वाचा, तेजपत्ता,चव्या, गजा पिपली, अतीश, धनिया जैसी प्राकृतिक  औषधियों और खाद्य पदार्थों को मिश्रण से तैयार किया गया है।  यह सभी प्राकृतिक औषधियां कामेच्छा के बढ़ोतरी के लिए बहुत ही लाभकारी मानी जाती हैं।  इसलिए आप कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए इस दवा को इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दवा  में मौजूद अतीश आपके शरीर में कामेच्छा के बढ़ोतरी के लिए  सबसे लाभकारी प्राकृतिक औषधि मानी जाती है 

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि गोक्षुरादी गुग्गुल 

पतंजलि गोखरू गुग्गुल को पुरुषों में कामेच्छा के बढ़ोतरी के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इस दवा के इस्तेमाल पर पुरुषों में कामेच्छा की कमी पूर्ण रूप से खत्म हो जाती है जिससे कि वह बेहतर संभोग कर पाता है और यौन जीवन व्यतीत कर सकते हैं।  पुरुषों में कामेच्छा की कमी एक बड़ी समस्या मानी जाती है जिसके लिए  गोखरू जैसी प्राकृतिक औषधि  लाभकारी साबित हो सकती है। गोखरू के पौधे बरसात में ज्यादा फलते फूलते हैं। पतंजलि गोक्षुरादी गुग्गुल यौन संबंधित विकारों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। गोखरू पुरुषों में शीघ्रपतन की समस्या को भी दूर करती है और पुरुषों के स्पर्म काउंट को बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल की जा सकती है। इस दवा को आप गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं जिससे कि आपको कामेच्छा में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि विटामिन सी और जिंक कैप्सूल 

पुरुषों में कामेच्छा की कमी के लिए  शरीर में  जिंक के कम स्तर को भी जिम्मेदार माना जाता है। क्योंकि पुरुषों में  कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन सबसे जरूरी होता है। जब आपके शरीर में जिंक की मात्रा कम होती है तो आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन भी कम होने लगता है जो कि आपके  कामेच्छा को सीधे तौर पर प्रभावित करता है जिससे कि आप बहुत ज्यादा देर तक संभोग नहीं कर पाते हैं और  आपके अंदर  कामेच्छा की कमी आने लगती है। इसीलिए आप ऐसी समस्या से बचने के लिए जिंक कैप्सूल का इस्तेमाल कर सकते हैं।  जिनकी कैप्सूल से आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में जिनका  स्तर बढ़ जाता है जो कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन को बढ़ाता है। जिससे कामेच्छा की कमी दूर हो जाती है और आप ज्यादा लंबे समय तक संभोग कर पाते हैं और शीघ्रपतन का शिकार नहीं होते हैं।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पतंजलि दिव्य मकरध्वज 

पतंजलि दिव्य मकरध्वज पतंजलि द्वारा तैयार की गई एक ऐसी दवा है जो कि पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधियों के मिश्रण से तैयार की गई है।  इस दवा को आप कामेच्छा की कमी को दूर करने और सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।  पतंजलि दिव्य मकरध्वज के इस्तेमाल से पुरुषों के शरीर में  कामेच्छा की बढ़ोतरी होने लगती है। इस दवा को जायफल, लॉन्ग, काली मिर्च, एलोवेरा जैसी  प्राकृतिक औषधियों के मिश्रण से तैयार किया गया है। यह सभी प्राकृतिक औषधियां पुरुषों में कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी मानी जाती हैं। इस दवा को आप 125 मिलीग्राम की मात्रा में शहद में मिलाकर दिन में 1 बार ले सकते हैं। जिससे आपके अंदर  कामेच्छा बढ़ने लगती है और आप  ज्यादा देर तक संभोग कर पाता है।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

अश्वगंधादि लेहम

अश्वगंधादि लेहम को आपके शरीर में कामेच्छा की कमी को दूर करने और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि इसमें बहुत सारे ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करके कामेच्छा को बढ़ाने का काम करते हैं।  इसके इस्तेमाल से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। जिससे आप बहुत ही आसानी से किसी भी रोग से लड़ सकते हैं  और ठीक हो सकते हैं। इस दवा को पुरुषों में यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को हल्दी, अश्वगंधा, मुलेठी, जीरा के मिश्रण तैयार किया गया है। इस दवा को आप 10 ग्राम की मात्रा में दूध में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं। इस दवा के बेहतर परिणाम के लिए आप को कम से कम 1 महीने तक इसका इस्तेमाल करना जरूरी होता है।  जिससे आपके शरीर में  ताजगी आती है और कामेच्छा की बढ़ोतरी होने लगती है।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

ब्राम्ही घृत 

 ब्राम्ही घृत को आप डिप्रेशन की समस्या को खत्म करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।  इस दवा के इस्तेमाल से आपके शरीर में मानसिक तनाव दूर होता है।  पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए सबसे जरूरी होता है कि मानसिक तनाव दूर हो  जिससे वे ज्यादा देर तक संभोग कर पाते हैं। और उनके अंदर कामेच्छा की कमी दूर होने लगती है।  कामेच्छा के बढ़ोतरी के लिए ब्राम्ही घृत को इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें  मौजूद ब्राम्ही,शंखपुष्पी,घी जैसी प्राकृतिक औषधियां और खाद्य पदार्थ  पुरुषों में कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं। इस दवा में मौजूद ब्राम्ही तंत्रिका प्रणाली को भी सुधारने का काम करती है जिससे कि  कामेच्छा बढ़ने लगती है। इस दवा को बदहजमी और कंस से छुटकारा दिलाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इस दवा को आप 5 ग्राम की मात्रा में गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं।  इसकी  बेहतर  परिणाम के लिए आपको लंबे समय तक  उपचार जारी रखना पड़ता है।

पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय

पौरुष शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय 

पुरुषों में पौरुष शक्ति को बढ़ाने के लिए बहुत सारे लोग तरह-तरह के  उपाय और दबाव का इस्तेमाल करते हैं।  जिससे उनके अंदर कामेच्छा के बढ़ोतरी होने लगे और वह ज्यादा देर तक संभोग कर पाए। लेकिन हम आपको बताना चाहेंगे कि पौरुष शक्ति को बढ़ाने के लिए आप घरेलू उपायों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। घरेलू उपायों को आपके दैनिक जीवन में इस्तेमाल की जाने वाले खाद्य पदार्थ और प्राकृतिक औषधियों से ही किया जाता है।  यह सभी खाद्य पदार्थों और  प्राकृतिक औषधियां बहुत ही लाभकारी और गुणकारी होते हैं। जिनके इस्तेमाल से  आप अपने  पौरूष शक्ति को बहुत ही आसानी से बढ़ा सकते हैं। लेकिन इन सभी गुणकारी खाद्य पदार्थों और प्राकृतिक औषधियों के बारे में हमें ज्यादा जानकारी ना होने के कारण हम  इनके सेवन से वंचित रह जाते हैं। इसीलिए कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए आपको घरेलू उपायों का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। इसीलिए आज हम आपको कुछ महत्वपूर्ण घरेलू उपाय और तरीकों के बारे में बताएंगे जिसके इस्तेमाल से आप अपने पौरुष शक्ति को बढ़ा सकते हैं। तो आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ महत्वपूर्ण घरेलू उपायों के बारे में  जिनके इस्तेमाल से  आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ सकती है।

  • छुहारा का सेवन 
  • आंवला का सेवन
  • काली उड़द की दाल का सेवन
  • लहसुन और प्याज का सेवन
  • केसर का सेवन करना
  •  ब्रोकली का सेवन 
  •  जिन्सेंग का इस्तेमाल
  • कस्तूरी का सेवन
  • फलों का सेवन

छुहारा का सेवन

छुहारे में कैल्शियम की भरपूर मात्रा मिलती है जो की कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही जरूरी माना जाता है। इसके नियमित इस्तेमाल से आप अपने अंदर हो रही कामेच्छा की कमी को दूर कर सकते हैं। छुहारे को बहुत से लोग शीघ्रपतन की समस्या से निजात के लिए भी इस्तेमाल करते हैं। इसीलिए छुहारे को दूध में  उबालकर रात में सोने से पहले खाना चाहिए जिससे कि आपकी पौरुष  शक्ति बढ़ने लगती है। इसीलिए आपको रोजाना कम से कम सौ ग्राम छुहारे का सेवन जरूर करना चाहिए।

आंवला का सेवन

आंवला में बहुत सारे ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि पुरुषों की पौरुष  शक्ति को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी माने जाते हैं।  आमला आपकी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद औषधि  मानी जाती है। जिसके सेवन से आपके आंख, बाल  की समस्या से भी निजात मिलता है।  अगर आप भी अपनी पौरुष शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको आंवले का सेवन जरूर करना चाहिए। पौरुष शक्ति को बढ़ाने के लिए आपको एक चम्मच शहद में आंवले के चूर्ण को मिलाकर दिन में दो बार खाना चाहिए जिससे कि आपके अंदर कामेच्छा की कमी दूर होने लगती है और आप ज्यादा लंबे समय तक  संभोग कर पाते हैं।

काली उड़द की दाल का सेवन

ज्यादातर देखा जाता है कि काली उड़द की दाल को बहुत कम लोग पसंद करते हैं। इसीलिए इसको नहीं खाते हैं लेकिन हम आपको बताना चाहेंगे कि इसमें बहुत सारे ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि आपकी  शारीरिक समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं। इसीलिए यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए भी आपको इस  दाल का सेवन जरूर करना चाहिए। इस दाल के सेवन से आपके शरीर में उन पोषक तत्वों की कमी पूरी होती हैं जो की कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही जरूरी होते हैं। इसीलिए आप उड़द की दाल को दैनिक भोजन में शामिल कर सकते हैं  या फिर इसे रात में भिगोकर रख दें और सुबह सलाद में मिलाकर भी खा सकते हैं।

लहसुन और प्याज का सेवन

हम अपने दैनिक जीवन में लहसुन और प्याज को तो जरूर इस्तेमाल करते हैं। लेकिन हम इनके गुणों के बारे में बिल्कुल भी नहीं जानते हैं क्योंकि लहसुन और प्याज में बहुत सारे ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि पौरूष शक्ति को बढ़ाने के लिए अत्यंत आवश्यक होते हैं। इसमें कुछ ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कि आपके शरीर में ऊर्जा को बढ़ाने के लिए बहुत ही बेहतर स्तर पर काम करते हैं। जिससे आपके शरीर में उत्तेजना उत्पन्न होती है और आपकी कामेच्छा की कमी दूर होने लगती है। इसलिए दैनिक भोजन में प्याज को सलाद के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। लहसुन की कलियों को आप  आग में पकाकर भी खा सकते हैं जिससे कि आपके अंदर पौरुष  शक्ति बढ़ने लगती है।

केसर का सेवन करना

केसर हमारे शरीर में बहुत सारी बीमारियों को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।  केसर के इस्तेमाल से आप अपने अंदर हो रही पौरुष शक्ति की कमी को बहुत ही आसानी से दूर कर सकते हैं। क्योंकि इसमें बहुत सारे ऐसे प्राकृतिक गुण पाए जाते हैं जो कि पुरुषों के  कामेच्छा और संभोग शक्ति को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं।  इसलिए आपको रोजाना केसर को दूध में मिलाकर पीना चाहिए। जिससे आपको पौरुष शक्ति की बढ़ोतरी में लाभ देखने को मिल सकता है।

ब्रोकली का सेवन 

 ब्रोकली एक प्रकार की सब्जी है जो कि पौरुष शक्ति को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जा सकती है। यह सब्जी फूलगोभी और पत्ता गोभी की ही प्रजाति है। जिसको हम सलाद में और सब्जी के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।  ब्रोकली में विटामिन ए और सी, फोलिक एसिड, फाइबर,  कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो कि पुरुषों में कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं। इन सभी पोषक तत्वों के मदद से आपके शरीर में किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन खत्म होता है और  रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसके इस्तेमाल से आप अपनी  मोटापे की समस्या को भी खत्म कर सकते हैं।

जिन्सेंग का इस्तेमाल

पुरुषों में पौरूष शक्ति को बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी होता है कि आप पर्याप्त मात्रा में नींद ले और अपने अत्यधिक वजन को भी कम करें जिससे पुरुषों में कामेच्छा बढ़ने लगती है और उनके शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है।  जिससे शरीर में रक्त का प्रवाह अच्छे से होता है और उत्तेजना उत्पन्न होने लगती है। इसी उत्तेजना की वजह से कामेच्छा की कमी दूर होती है और आप लंबे समय तक संभोग कर पाने में सक्षम होते हैं।

कस्तूरी का सेवन 

पौरुष शक्ति बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय के रूप में कस्तूरी को इस्तेमाल किया जा सकता है। कस्तूरी को आयुर्वेद में एक विशेष दर्जा दिया गया है। जिसको पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।  कस्तूरी को जाकर पहाड़ी क्षेत्रों में ही पाया जाता है।  इसके इस्तेमाल से आप अपने सर्दी और जुकाम की समस्या को भी दूर कर सकते हैं। इसको चेहरे के मुहांसों को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।  कस्तूरी में बहुत सारे ऐसे  पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि  पुरुषों में उत्तेजना उत्पन्न करने के लिए बहुत ही सहायक साबित हो सकते हैं।  उत्तेजना के उत्पन्न होने से ही पुरुषों में कामेच्छा की कमी दूर होती है और वह ज्यादा लंबे समय तक संभोग  कर पाते हैं। 

फलों का सेवन

पुरुषों में कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए  आपको ताजा फलों का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि ताजे फलों में बहुत सारे ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि कामेच्छा की कमी को दूर करके  आपको बेहतर संभोग करने में मदद करते हैं।  फलों में बहुत सारे ऐसे एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो कि शरीर में नई ऊर्जा का संचार करता है और रक्त संचार भी सही ढंग से करने का काम करता है। फलों में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट आपके शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम करते हैं और मोटापे की समस्या से निजात दिलाते हैं। मोटापे की समस्या दूर होने की वजह से ही  आपके शरीर में कामेच्छा की कमी दूर होती है।

अंडों का सेवन 

पुरुषों में  कामेच्छा को बढ़ाने के लिए अंडों का सेवन करना चाहिए। अंडो में बहुत ही प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाई जाती है जो कि पुरुषों के वीर्य को बढ़ाने और कामेच्छा की कमी को दूर करने के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो सकते हैं।  अंडों  के सेवन से आपके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है  और इसमें कैल्शियम होने की वजह से आपके हड्डियां भी मजबूत होती हैं।

निष्कर्ष 

इस पूरे लेख में पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के उपाय को विस्तृत  रूप से बताया गया है। जिनके इस्तेमाल से आप अपने कामेच्छा की कमी को दूर कर सकते हैं और  बेहतर संभोग का आनंद उठा सकते हैं।  इस लेख में कामेच्छा की कमी के प्रमुख कारणों के बारे में भी चर्चा की गई है।  आपको जिन्हें जानना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि जब तक आप पौरुष शक्ति की कमी के लिए जिम्मेदार कारणों के बारे में नहीं जानेंगे।  तब तक आप उनका सही इलाज भी नहीं कर पाएंगे। इसीलिए इस लेख में  कामेच्छा की बढ़ोतरी के लिए  प्रमुख आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में भी बताया गया है।  जिनके इस्तेमाल से आप अपने कामेच्छा की कमी को दूर कर सकते हैं। आपके शरीर में कामेच्छा की कमी दूर हो जाने से आप ज्यादा लंबे समय तक संभोग कर पाएंगे और अपने महिला साथी को ज्यादा संतुष्ट और सुखी कर पाएंगे। 

सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर 

प्रश्न:पौरुष शक्ति बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए?

उत्तर- पौरुष  शक्ति बढ़ाने के लिए आपको छुहारा का सेवन,आंवला का सेवन,काली उड़द की दाल का सेवन,लहसुन और प्याज का सेवन,केसर का सेवन करना,ब्रोकली का सेवन,जिन्सेंग का इस्तेमाल,कस्तूरी का सेवन,फलों का सेवन करना चाहिए।  जिससे पुरुषों के अंदर कामेच्छा की बढ़ोतरी होती है। चैन नहीं होता 

प्रश्न:पुरुष को जोश कब आता है?

उत्तर- पुरुषों में जब संभोग करने की इच्छा जागृत होती है  और वह हस्तमैथुन नहीं कर पाते हैं जिसकी वजह से उनके अंदर बहुत ज्यादा जोश आता है और ज्यादा समय तक संभोग कर पाते हैं।  पुरुषों में पोषक तत्वों की कमी दूर होती है तो उनके अंदर उत्तेजना उत्पन्न होती है। जिस वजह से उनके अंदर जोश  आने लगता है।  

प्रश्न:स्त्री को जोश कब आता है?

उत्तर- स्त्रियों में संभोग के दौरान जब वह ओवयलैसन स्थिति में आ जाती है तब ही स्त्रियों में प्रोजेस्ट्रोन और मन बहुत ही  उच्चतम स्तर पर होता है। इसी समय महिलाओं को संभोग के दौरान सबसे ज्यादा जोर आने की संभावना रहती है।

Leave a Comment