स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल | मर्दाना ताकत बढाने के लिए सबसे उत्तम आयल

आज के समय में लगभग 75% युवा स्तंभन दोष की समस्या से परेशान हैं, क्योंकि स्तंभन दोष के समस्या शारीरिक शक्ति की कमजोरी के कारण होती है। शरीर में शारीरिक शक्ति या सेक्स पावर की कमी के कारण हमारे शरीर में विभिन्न प्रकार के सेक्स संबंधित समस्याएं होने लगती हैं, जिनमें स्तंभन दोष एक मुख्य समस्या है, जिसके कारण पुरुष सेक्स क्रिया करने में असमर्थ होते हैं, तथा उनको विभिन्न प्रकार के सामाजिक बुराइयों का सामना करना पड़ता है। जिसके कारण है, मानसिकता का शिकार हो जाते हैं, तथा उनके जीवन में विभिन्न प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। आज के इस लेख में स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल तथा कुछ प्राकृतिक उपचार के बारे में जानकारी दी जा रही है, जो आपके जीवन को खुशहाल बना सकती है, तथा आपको समाज में तथा महिला जीवन साथी के साथ आंख से आंख मिलाकर जीने का साहस दे सकती है।

स्तभन दोष को दूर करने के आयुर्वेदिक तेल जो लिंग को बनाएं मजबूत

Best Buy









Max आयुर्वेदा किंग पावर ऑयल



  • 100% असरदार
  • पूर्णरूप से आयुर्वेदिक
  • सुरक्षित
Budget Pick







Max Ayurveda Dr Power



  • अधिक असरदार
  • पूर्णरूप से फायदेमंद
  • No Side Effect
Trending Buy







AADAR STRAIGHT UP Oil



  • पूर्ण सुरक्षित
  • अद्भुत परिणाम
  • आयुर्वेदिक तेल

स्तंभन दोष क्या होता है

स्तंभन दोष क्या होता है

जब कोई पुरुष इसे महिला साथी के साथ सेक्स क्रिया करने के लिए तैयार होता है, तो उसके लिंग में पर्याप्त तनाव ना आना या फिर सेक्स प्रारंभ करने के 2 मिनट के अंदर ही वीर्य स्खलित हो जाना स्तंभन दोष की श्रेणी में आता है।

लिंग से वीर्य निकलना भी स्तंभन दोष का भी एक कारण हो सकता है, क्योंकि कभी-कभी प्रारंभिक समय में लिंग में तनाव तो आ जाता है किंतु कुछ समय पश्चात लिंग में कमजोरी के कारण लिंग से तनाव समाप्त हो जाता है, तथा पेनिस बिल्कुल ढीला हो जाता है।

जिसके कारण पुरुष सेक्स क्रिया करने में असमर्थ हो जाता है, क्योंकि वह लिंग को महिला की योनि में प्रवेश नहीं कर पाता है, जिसके कारण महिलाओं को सेक्स का आनंद नहीं मिल पाता है, तथा महिला और पुरुष के मध्य मानसिक तनाव उत्पन्न होने लगता है।

स्तंभन दोष को शीघ्रपतन तथा शीघ्र स्खलन की समस्या के नाम से भी जानते हैं, जिसकी समस्या के कारण पुरुषों का लिंग सेक्स क्रिया प्रारंभ करने के 2 मिनट के अंदर ही स्खलित हो जाता है, जिसे हम शीघ्रपतन कहते हैं।

शीघ्रपतन की समस्या पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की कमी के कारण होती है, क्योंकि शुक्राणुओं की कमी के कारण पुरुषों के वीर्य में पर्याप्त शुक्राणु नहीं होते हैं, जिसके कारण वीर्य बहुत पतला होता है। वीर्य के पतले होने के कारण सेक्स क्रिया प्रारंभ करने से 2 मिनट के अंदर ही वीर्य स्खलन हो जाता है, जिसे स्तंभन दोष के नाम से जाना जाता है।

पेनिस की नसों की कमजोरी के कारण भी होता है, शारीरिक कमजोरी के कारण या फिर बचपन में की गई गलतियां के द्वारा यदि यदि लिंग की नसों में कमजोरी हो जाती है, तो लिंग अधिक देर तक वीर्य को रोकने में असमर्थ होता है, तथा लिंग के नसों के कारण लिंग में पर्याप्त तनाव नहीं आता है, तथा लिंग ढीला रहता है जिसे हम  स्तंभन दोष के नाम से जानते हैं। 

स्तंभन दोष के कारण

स्तंभन दोष के कारण

लिंग में ढीलेपन का मुख्य कारण शारीरिक कमजोरी के कारण लिंग की नसों के ढीलेपन के कारण होता है जिसमें लिंग अधिक देर तक टाइट नहीं रहता है या फिर वीर्य को रोकने में असमर्थ होता है।

किंतु इन समस्याओं के साथ साथ स्तंभन दोष के कारण भी होते हैं। जिनकी वजह से  वीर्यपात तथा लिंग में तनाव ना आने की समस्या होती है, जिसके कारण पुरुषों में शीघ्रपतन तथा शीघ्र स्खलन की समस्याएं होती रहती हैं। स्तंभन दोष होने के कुछ कारण निम्नलिखित हो सकते हैं

  • शारीरिक कमजोरी।
  • लिंग की नसों में कमजोरी।
  • मानसिक तनाव।
  • किसी विशेष प्रकार का डर।
  • सेक्स करने की अभिज्ञता।
  • धूम्रपान का अधिक सेवन।
  • अल्कोहल का प्रयोग।

स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल व अन्य उपचार

पुरुषों में स्तंभन दोष की समस्या बहुत अधिक मात्रा में देखने को मिलती है, जिसका कारण आधुनिक वातावरण तथा खानपान की वजह से है। आज के समय में किसी भी व्यक्ति के पास शारीरिक देखभाल के लिए समय नहीं है तथा खानपान के लिए पर्याप्त आहार तथा पोषक तत्व उपलब्ध नहीं है, क्योंकि आज के समय में प्रत्येक व्यक्ति बाजार से बना बनाया खाना तथा अन्य खाद्य पदार्थ खरीद कर खा रहा है।

जिसमें अत्यधिक मिलावट देखने को मिलती है, जिसके कारण शरीर को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता है, जिसके कारण शरीर कमजोर हो जाता है तथा विभिन्न प्रकार की शारीरिक समस्याएं होने लगती हैं। शारीरिक समस्याओं में सेक्स से संबंधित स्तंभन दोष की समस्या एक महत्वपूर्ण समस्या देखने को मिलती है।

 इस समस्या के निदान के लिए आज हम आपको कुछ उपचार के बारे में बताएंगे जिनका प्रयोग करके आप अपने अंदर होने वाली सेक्स समस्या स्तंभन दोष को दूर कर सकते हैं, तथा अपने जीवन में होने वाली सेक्स संबंधित शीघ्र स्खलन की समस्या को समाप्त कर सकते हैं।

जिससे आपका जीवन खुशहाल हो सकता है तथा विभिन्न प्रकार की मानसिक समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। इस समस्या से बचने के लिए निम्नलिखित विधियों द्वारा उपचार किया जा सकता है

  • स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल।
  • स्तम्भन की आयुर्वेदिक दवा।
  • स्तम्भन शक्ति बढ़ाने की दवा।
  • स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा क्रीम।

स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल

शीघ्रास्खलन को दूर करने के लिए जरूरत होती है, कि सबसे पहले लिंग की कमजोरी को दूर किया जाए लिंग की कमजोरी को दूर करने के लिए लिंग की मांसपेशियों तथा नसों को मजबूत बनाने की आवश्यकता होती है, इसके लिए विभिन्न प्रकार की दवाओं के साथ-साथ लिंग की नसों को मजबूत बनाने वाले  दवा आयल उपलब्ध है।

लिंग की नसों को मजबूत बनाने वाले तेल की सहायता से मालिश करके लिंग की नसों को मजबूत बनाया जा सकता है। जिसके लिए कुछ विशेष प्रकार के तेलों द्वारा लिंग की दैनिक रूप से मसाज करना चाहिए, जिससे जिससे लिंग की नसें धीरे-धीरे  मजबूत हो जाते हैं, जिससे लिंग में होने वाले स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाती है। लिंग स्तंभन दोष की समस्या को समाप्त करने के लिए निम्नलिखित तेलों का प्रयोग किया जा सकता है

  • Max आयुर्वेदा किंग पावर ऑयल
  • AADAR STRAIGHT UP Oil
  • CHIRAYU पॉशक हर्बल मसाज ऑयल
  • Max Ayurveda Dr Power 
  • Wow Omega-3 फिश ऑयल
  • Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल
  • Vigini Cool नीला मसाज ऑयल
  • लैवेंडर का तेल
  • आर्गी आयल
  •  सरसों का तेल

Max आयुर्वेदा किंग पावर ऑयल

Max आयुर्वेदा किंग पावर ऑयल

मैक्स आयुर्वेदा किंग पावर  आयल में मांसपेशियों को रिपेयर करने की क्षमता बहुत अधिक मात्रा में पाई जाती है क्योंकि इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्वों का मिश्रण होता है। विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक रासायनिक तत्वों के मिश्रण के कारण इसमें बहुत अधिक औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो लिंग की नसों को पर्याप्त पोषण प्रदान करते हैं, जिससे लिंग की नसों में उपस्थित ऊतकों का विकास होता है, और लिंग की नसें धीरे-धीरे मजबूत होने लगती हैं।

दैनिक रूप से मैं आयुर्वेदा किंग पावर आयल द्वारा लिंग की मसाज करने के कारण लिंग से स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाती है। जिन व्यक्तियों में लिंग में तनाव की कमी तथा शीघ्र स्खलन जैसी समस्या होती है, उनको दैनिक रूप से लिंग पर मैथ्स आयुर्वेदा किंग पावर आयल द्वारा मसाज करनी चाहिए।

AADAR STRAIGHT UP Oil

AADAR STRAIGHT UP Oil

Aadar straight up oil प्रकृति का आयुर्वेदिक तत्वों से भरपूर होता है इसमें उपस्थित लौंग तथा दालचीनी लिंग में पर्याप्त रक्त संचार को बढ़ाने का कार्य करते हैं। जिसके कारण लिंग की नसों में पर्याप्त रक्त संचार होने लगता है, तथा लिंग की नसें एक्टिव हो जाती हैं, और उनमें तनाव आने लगता है।

जो व्यक्तियों में स्तंभन दोष की समस्या होती है, उनके लिए Aadar straight up oil  बहुत ही कारगर माना जाता है, क्योंकि इसमें हर्बल बूस्टर आयुर्वेदिक पदार्थ मिले होते हैं, जो रक्त संचार को बहुत तीव्र कर देते हैं, जिससे लिंग की नसें मजबूत हो जाती हैं तथा उनमें पर्याप्त  तनाव आने लगता है, और लिंग से स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाती है।

जिन व्यक्तियों में लिंग के ढीलेपन की समस्या तथा सेक्स करते समय शीघ्र स्खलन की समस्या होती है। उनको दैनिक रूप से Aadar straight up oil  का प्रयोग अपने लिंग की मसाज करने के लिए करना चाहिए।

CHIRAYU पॉशक हर्बल मसाज ऑयल

CHIRAYU पॉशक हर्बल मसाज ऑयल

CHIRAYU पॉशक हर्बल मसाज ऑयल पुरुषों के लिंग से ढीलेपन की समस्या को दूर करने के लिए ही बनाया गया है। इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक रासायनिक तत्वों का मिश्रण किया गया है, जो लिंग की नसों को प्राकृतिक रूप से शक्ति प्रदान करता है, जिसके कारण लिंग की नसों में आई कमजोरी धीरे-धीरे दूर होने लगती है, और लिंग की नसों में रक्त संचार सामान्य रूप से होने लगता है, जिससे लिंग में धीरे-धीरे तनाव आने लगता है, तथा लिंग से ढीलेपन की समस्या समाप्त होने लगती है।

पुरुषों में स्तंभन दोष के कारण लिंग की नसों में ढीलापन तथा वीर्यपात की समस्या होती है, उनको दैनिक रूप से CHIRAYU पॉशक हर्बल मसाज ऑयल द्वारा अपने लिंग की मसाज करनी चाहिए। जिससे उनके लिंग की नसें मजबूत हो जाएंगी, और स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाएगी जिससे उनके लिंग में सबसे समस्याएं नहीं रहेंगे और वह अपने खुशहाल जीवन का निर्वाहन करेंगे।

Max Ayurveda Dr Power

Max Ayurveda Dr Power

Max Ayurveda Dr Power ऑल का प्रयोग लिंग में विभिन्न प्रकार के समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। विभिन्न प्रकार के समस्याओं के कारण लिंग की कमजोर नसों को मजबूत बनाने तथा लिंग से शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए Max Ayurveda Dr Power आयल का प्रयोग लिंग की नसों को मजबूत बनाने के लिए करना चाहिए।

जिससे लिंग की नसें मजबूत हो जाती है, तथा उनमें पर्याप्त रक्त संचार होने लगता है। सामान्य रूप से रक्त संचार होने के कारण लिंग में तनाव आने लगता है, तथा लिंग से ढीलेपन की समस्या दूर हो जाती है। ढीलेपन की समस्या ना होने के कारण पुरुष महिला साथी के साथ पर्याप्त समय के लिए सेक्स क्रिया करने में समर्थ होता है, और अपनी महिला साथी को सेक्स क्रिया में संतुष्ट करता है।

महिला तथा पुरुष दोनों के मध्य आपसी रिश्ते बहुत ही अच्छे होते हैं। अतः स्तंभन दोष की समस्या से बचने के लिए Max Ayurveda Dr Power ऑल द्वारा लिंग की मसाज करनी चाहिए।

Wow Omega-3 फिश ऑयल

Wow Omega-3 फिश ऑयल

Wow Omega-3 फिश ऑयल का निर्माण मछली के अंदर से निकाली गई चर्बी के द्वारा किया जाता है, तथा इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक औषधि तत्वों को मिलाकर बनाया जाता है, जो हमारे शरीर की मांसपेशियों को रिपेयर करने में समर्थ होते हैं, तनाव ना आने की समस्या पेनिस की नसों में ढीलेपन तथा कमजोरी के कारण होता है।

जिसके कारण लिंग में पर्याप्त तनाव नहीं आता है, और लिग से शीघ्रपतन की समस्या होने लगती है। लिंग से ढीलापन की समस्या को दूर करने के लिए दैनिक रूप से लिंग पर Wow Omega-3 फिश ऑयल का प्रयोग लिंग मसाज करने के लिए करना चाहिए। जिससे ऑल में उपस्थित आयुर्वेदिक तत्वों से लिंग की नसें मजबूत होती हैं, और मछली की चर्बी में उपस्थित ओमेगा 3 पदार्थ मजबूती प्रदान करते हैं, जिससे स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाती है।

Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल

Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल

Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल का प्रयोग लिंग से स्तंभन दोष की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है, स्तंभन दोष की समस्या लिंग में विभिन्न प्रकार की कमजोरियों के कारण आती है। लिंग की कमजोरी के साथ साथ शारीरिक कमजोरी के कारण भी स्तंभन दोष की समस्या होने लगती है। शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए विभिन्न प्रकार आयुर्वेदिक दवाओं का प्रयोग करना चाहिए।

लिंग की नसों में ढीलापन दूर करने के लिए Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल बहुत ही असरदार दवा के रूप में कार्य करता है, जिसका प्रयोग करने के लिए ऑल द्वारा दैनिक रूप से लिंग की मसाज करनी चाहिए, जिससे लिंग की नसें मजबूत हो जाती हैं, तथा उनमें पर्याप्त रूप से रक्त संचार होने लगता है। लिंग की नसों में पर्याप्त रक्त संचार होने के कारण उनमें पर्याप्त तनाव होने लगता है, तथा ढीलेपन की समस्या समाप्त हो जाती है।

अतः लिंग से ढीलेपन की समस्या तथा शीघ्र स्खलन ऐसे समस्याओं को दूर करने के लिए Dr Vedic Mens आयुर्वेदिक तेल का प्रयोग किया जा सकता है। 

Vigini Cool नीला मसाज ऑयल

Vigini Cool नीला मसाज ऑयल

Vigini Cool नीला मसाज ऑयल मैं उपस्थित आयुर्वेदिक तत्व मांसपेशियों तथा नसों को रिपेयर करने के लिए लिए पर्याप्त रूप से समर्थ होते हैं। Vigini Cool नीला मसाज ऑयल मैं विभिन्न प्रकार की औषधीय गुणों वाले हर्बल प्रोडक्ट मिलाकर बनाए जाने वाला ऑल है, जो लिंग की नसों में पर्याप्त तनाव तथा रक्त संचार उत्पन्न करता है।

 पुरुषों के लिंग में नसों की कमजोरी के कारण लिंग में तनाव की समस्या होती है, और लिंग में तनाव की समस्या के कारण पुरुष सेक्स क्रिया करने में असमर्थ होता है, तथा सेक्स क्रिया करते समय शीघ्रपतन की समस्या होती है।

नके लिए Vigini Cool नीला मसाज ऑयल बहुत ही असरदार आयल है, जिसका प्रयोग करके भी लिंग की नसों को मजबूत बना सकते हैं, तथा होने वाली लिंग में सभी प्रकार की समस्याओं को दूर कर सकते हैं।

लैवेंडर का तेल

लैवेंडर का तेल

लैवेंडर के पौधे में विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्व पाए जाते हैं। यह आयुर्वेदिक तत्व औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं, तथा उनमें त्वचा के ऊतकों को रिपेयर करने तथा नसों की कमजोरी को दूर करने के पर्याप्त गुण पाए जाते हैं, जिसके कारण यह तेल के स्तंभन दोष की समस्या के लिए बहुत ही आरामदायक होता है।

जिन व्यक्तियों के लिंग में स्तंभन दोष की समस्या होती है, उनको दैनिक रूप से लैवेंडर के तेल द्वारा लिंग की मसाज करनी चाहिए, जिससे उनकी लिंग की नसें मजबूत हो जाती हैं, तथा लिंग की कमजोरी दूर हो जाती है। लिंग की कमजोरी दूर होने के कारण लिंग में तनाव आने लगता है, तथा शीघ्रपतन की समस्या समाप्त हो जाती है।

जिससे पुरुष पर्याप्त समय तक सेक्स क्रिया करने में समर्थ रहता है, तथा महिला साथी को सेक्स क्रिया में संतुष्ट करता है जिससे उनका जीवन खुशहाल रहता है।

आर्गी आयल

आर्गी आयल

आर्गी आयल का प्रयोग स्तंभन दोष के समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है जिन व्यक्तियों में स्तंभन दोष की समस्या होती है। जिसके कारण उनके लिंग में परिवर्तन हो नहीं आता है, तथा इसके शीघ्रपतन की समस्या हो जाती है।

इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए आर्गी आयल बहुत ही उपयोगी होता है, जिसके दैनिक प्रयोग से लिंग में होने वाली सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं, क्योंकि इसके मसाज करने से लिंग में पर्याप्त रक्त संचार होने लगता है, जिससे लिंग की नसों में होने वाली कमजोरी दूर हो जाती है, तथा उनमें पर्याप्त तनाव आने लगता है। लिंग में तनाव आने के कारण पुरुष सेक्स करने में समर्थ होता है, तथा शीघ्रपतन की समस्या नहीं होती है।

सरसों का तेल

सरसों का तेल

सरसों का तेल मैं विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तथा प्राकृतिक तत्व उपलब्ध होते हैं, जो हमारे शरीर के मांसपेशियों  तथा नसों को प्राकृतिक रूप से हील करता है, जिसके कारण सरसों के तेल का प्रयोग विभिन्न प्रकार की शारीरिक समस्याओं के प्रयोग में किया जाता है, इसके साथ ही साथ सरसों के तेल में विभिन्न प्रकार के खनिज पदार्थ उपलब्ध होते हैं। इसलिए इसका प्रयोग भोजन के रूप में भी किया जाता है, जो हमारे शरीर को पर्याप्त मात्रा में खनिज पदार्थ उपलब्ध कराता है।

लिंग की कमजोरी को दूर करने के लिए सरसों के तेल द्वारा मसाज करने से लिंग की नसों में कमजोरी दूर हो जाती है, तथा लिंग में तनाव आने लगता है, जिससे लिंग से स्तंभन दोष की समस्या समाप्त हो जाती है, और पुरुषों में होने वाली शीघ्रपतन तथा शीघ्र स्खलन के साथ-साथ लिंग से तनाव की समस्या दूर हो जाती है। जिन व्यक्तियों में लिंग की समस्या के कारण विभिन्न प्रकार की समस्याएं होती हैं, उनको दैनिक रूप से सरसों के तेल का प्रयोग खाने तथा लेकर मसाज करने के लिए करना चाहिए।

स्तम्भन की आयुर्वेदिक दवा

जैसा कि बताया गया है स्तंभन दोष का कारण शारीरिक कमजोरी होती है अतः शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाता है, जो हमारे शरीर को पोषण तथा प्रकार के पोषण पदार्थ प्रदान करते हैं, जिससे हमारे शरीर मैं पोषक तत्वों की कमी नहीं होती है, और हमारे शरीर से शारीरिक शक्ति की कमजोर होने की समस्या समाप्त हो जाती है।

शरीर में पर्याप्त शारीरिक शक्ति होने के कारण स्तंभन दोष की समस्या नहीं होती है। शारीरिक शक्ति को समाप्त करने के लिए शिलाजीत, अश्वगंधा, शतावरी, सफेद मूसली खाद्य पदार्थों का प्रयोग किया जा सकता है। यह हमारे शरीर से शारीरिक कमजोरी को दूर करते हैं जिसके कारण हमारे शरीर में पर्याप्त शारीरिक शक्ति का विकास होता है, और हमारे सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं।

स्तम्भन शक्ति बढ़ाने की दवा

स्तंभन शक्ति को बढ़ाने के लिए बाजार में विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक दवाओं के साथ-साथ अन्य होम्योपैथिक एलोपैथिक दवाइयां उपलब्ध हैं, जिनका प्रयोग करके शारीरिक शक्ति का विकास किया जा सकता है, तथा शरीर से स्तंभन दोष की समस्या को दूर किया जा सकता है।

जिन व्यक्तियों में स्तंभन दोष की समस्या होती है, उनको बाजार में उपस्थित विभिन्न प्रकार की कंपनियों द्वारा निर्मित दवाओं का प्रयोग करके स्तंभन दोष की समस्या को ठीक किया जा सकता है। स्तंभन दोष के समस्या को ठीक करने के लिए मैनफोर्स टैबलेट, वायग्रा 100 mg टेबलेट का प्रयोग किया जाता है जो बाजार में बड़ी आसानी से उपलब्ध होती है।

स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा क्रीम

स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा क्रीम

पुरुषों में सेक्स करते समय स्तंभन दोष की समस्या होती है, जो पुरुषों के लिंग में कमजोरी तथा शारीरिक शक्ति की कमजोरी के कारण होती है। इस समस्या के कारण पुरुषों के लिंग में तनाव नहीं आता है, तथा सेक्स करते समय 2 मिनट के अंदर ही लिंग से वीर्यपात हो जाता है, जिसके कारण पुरुष महिला के साथ सेक्स क्रिया करने के लिए समर्थ नहीं रहता है।

ऐसी स्थिति में विभिन्न प्रकार के तेलों का प्रयोग लिंग की मजबूती के लिए किया जाता है, लेकिन आजकल बाजारों में लिंग पर तुरंत असर करने वाले विभिन्न प्रकार की क्रीम उपलब्ध हैं, जिनका प्रयोग करके तुरंत लिंग में रक्त संचार को बढ़ाया जा सकता है, जिससे कुछ समय के लिए पर्याप्त मात्रा में तनाव युक्त रहता है तथा पुरुष सेक्स क्रिया करने में समर्थ होता है। 

स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल तथा उपयोग विधि

स्तंभन दोष को दूर करने के लिए उपरोक्त लेख में विभिन्न प्रकार के खेलों का वर्णन किया गया है, जिनका प्रयोग करते हुए स्तंभन दोष की समस्या को ठीक किया जा सकता है। किंतु स्तंभन दोष के समस्या को दूर करने के लिए तेल का सही प्रकार से प्रयोग करना बहुत ही मायने रखता है।

यदि आप तेल का प्रयोग किस तरह से करना है, इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आपको स्तंभन दोष की समस्या से लाभ नहीं मिलेगा। स्तंभन दोष की समस्या को जड़ से समाप्त करने के लिए निम्नलिखित विधि का प्रयोग करना चाहिए।

  • सबसे पहले लिंग को ठंडे पानी से धोना चाहिए।
  • लिंग को धोने के बाद किसी कॉटन के कपड़े से सुखा लेना चाहिए।
  • प्रयोग किए जाने वाले तेल को आंखों में लेकर लिंग पर धीरे से लगाना चाहिए।
  • तेल को लिंग पर लगाने के पश्चात उसे तुरंत लिंग पर मसल ना चाहिए।
  • जब पूरे लिंग में तेल लग जाए तो फिर उंगलियों तथा अंगूठे की सहायता से धीरे-धीरे मालिश करनी चाहिए।
  • उस समय मालिश करने के पश्चात लिंग में रक्त संचार के कारण तनाव होने लगता है।
  • जैसे जैसे लिंग में तनाव होता है अंगुलियों तथा अंगूठे के दबाव को कम करते रहना चाहिए।
  • अत्यधिक दबाव लगाने के कारण लिंग से वीर्य पात की समस्या हो सकती है।
  • लिंग के अनुसार हल्के हाथों से करना चाहिए अधिक तेज नहीं लगाना चाहिए।

स्तंभन दोष होने के लक्षण

जैसा कि बताया गया है कि स्तंभन दोष शारीरिक शक्ति की कमजोरी तथा लिंग में पर्याप्त तनाव न आने की समस्या के कारण होता है। कम सेक्स ड्राइव आपकी व्यस्त जीवन शैली या कुछ अन्य कारकों के कारण हो सकती है।

स्तंभन दोष की तुलना कम कामेच्छा के साथ नहीं की जानी चाहिए। ये उससे अलग एवं गंभीर समस्या है समाज में यौन समस्याओं के बारे में कुछ भ्रांतिया हैं। भ्रांतिया कभी-कभी वास्तविक बीमारियों से अधिक खतरनाक होते हैं।

यह समय है कि हमारे समुदाय को इस तरह के अतार्किक भ्रांतिया से छुटकारा पाना चाहिए, जो वास्तविक बीमारियों के बारे में बहुत अधिक चिंताएँ पैदा करते हैं, और वैज्ञानिक प्रबंधन में बाधा डालते हैं। होता है स्तंभन दोष के समस्या तो प्राथमिक लक्षणों द्वारा पहचाना जा सकता है। जिसमें निम्नलिखित लक्षण प्रदर्शित होते हैं

  • कामेच्छा की कमी हो जाती है
  • लिंग में पर्याप्त तनाव नहीं आता है।
  • लिंग से वीर्य बात बहुत शीघ्र हो जाता है।
  • लिंग में वीर्य की मात्रा बहुत कम होती है।
  • वीर्य बहुत अधिक पतला होता है
  • शरीर में बहुत अधिक कमजोरी प्रतीत होती है।
  • किसी कार्य को करने में मन नहीं लगता है।
  • नींद अधिक लगती है।
  • व्यक्ति को थकान तथा तनाव महसूस होता है। 

स्तंभन दोष से बचने के लिए सामान्य उपाय

स्तंभन दोष की समस्या को दूर करने के लिए कुछ सामान्य उपाय अपना जा सकते हैं जिनके करने से स्तंभन दोष में सुधार आता है क्योंकि स्तंभन दोष के समस्या विभिन्न प्रकार की बुरी आदतों को अपनाने से होती है। स्तंभन दोष के समस्या को समाप्त करने के लिए निम्नलिखित उपाय अपनाए जा सकते हैं। जिनको दैनिक जीवन में आकर स्तंभन दोष के समस्या को ठीक किया जा सकता है।

  • शरीर को पर्याप्त पोषण देना चाहिए । 
  • दैनिक रूप से व्यायाम करना चाहिए।
  • धूम्रपान का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अल्कोहल का अधिक मात्रा में प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • हस्तमैथुन नहीं करना चाहिए।
  • सेक्स करते समय डर नहीं रखना चाहिए। 
  • सेक्स करने का अनुभव होना चाहिए।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में स्तंभन दोष की समस्या को दूर करने के लिए विविध प्रकार की दवाओं तथा स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल की जानकारी दी गई है, जिसका उद्देश्य व्यक्तियों ने स्तंभन दोष की समस्या को दूर करने की जानकारी को उपलब्ध कराना है। स्तंभन दोष की समस्या से निपटने के लिए डॉक्टर की सलाह तथा परामर्श लेना आवश्यक होता है, तथा डॉक्टर के बताए गए दवाओं तथा तेलों का प्रयोग करते हुए शारीरिक शक्ति का विकास भी आवश्यक रूप से करना चाहिए, जिससे शीघ्रपतन जैसे समस्या नहीं होती है, लिंग में तनाव आता है। उपरोक्त लेख में स्तंभन दोष के लिए सबसे अच्छा तेल का वर्णन किया गया है, जिनके प्रयोग द्वारा बड़ी आसानी से लेकर मसाज करते हुए स्तंभन दोष की समस्या को दूर किया जा सकता है।

FAQ’s

स्तंभन दोष का अर्थ क्या है?

स्तंभन दोष लिंग में तनाव की समस्या तथा लिंग से वीर्य पास होने की समस्या को कहते हैं पुरुषों के लिंग में तनाव की कमी तथा तथा सेक्स करते समय 2 मिनट के अंदर ही वीर बात हो जाने की समस्या के कारण सेक्स करने में असमर्थ होता है जिसे स्तंभन दोष कहते हैं।

लिंग की नसों की मालिश के लिए कौन सा तेल प्रयोग किया जा सकता है?

लिंग की नसों को मजबूत बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के तेलों का प्रयोग किया जाता है जिनके द्वारा  लिंग की मसाज करके लिंग की नसों को मजबूत बनाया जाता तथा उसमें पर्याप्त रक्त संचार होने लगता है जिसके कारण लिंग की नसें मजबूत हो जाती हैं लिंग की नसों को मजबूत बनाने के लिए उपरोक्त लेख में विभिन्न प्रकार के तेलों का प्रयोग बताया गया है  जिन का उपयोग करके स्तंभन दोष की समस्या समाप्त की जा सकती है। 

लिंग में ज्यादा देर तक तनाव क्यों नहीं रहता?

लिंग की नसों में ढीलेपन की समस्या के कारण तथा लिंग की नसों में कमजोरी के कारण ज्यादा देर तक तनाव नहीं रहता है लिंग में अधिक देर तना ना रहने की समस्या शारीरिक कमजोरी के कारण भी हो सकती है अतः लिंग में तनाव ना रहने का मुख्य कारण लिंग की नसों में कमजोरी तथा शारीरिक कमजोरी होता है। 

Leave a Comment